नेत्रहीनों के लिए एक नया मोबाइल एप लाने की तैयारी कर रहा है रिजर्व बैंक, नोटों को पहचानने में मिलेगी मदद

Samachar Jagat | Monday, 13 May 2019 10:56:26 AM
Reserve Bank of India proposes mobile app to help blind people identify notes

नई दिल्ली। रिजर्व बैंक ने नेत्रहीन लोगों को नोटों की पहचान में मदद करने के लिए एक मोबाइल एप लाने का प्रस्ताव तैयार किया है। अभी देश में 10 रुपए, 20 रुपए, 50 रुपए, 100 रुपए, 200 रुपए, 500 रुपए और 2000 रुपए के नोट प्रचलन में हैं। इनके अलावा भारत सरकार एक रुपए के नोट भी जारी करती है। नोटों की पहचान करने में नेत्रहीन लोगों की मदद के लिए 'इंटाग्लियो प्रिंटिग’ यानी उभरे रूप से छपाई में 100 रुपए और इससे बड़ी राशि के नोट ही उपलब्ध हैं।

नोकिया के इन स्मार्टफोन की कीमत में लिमिटेड समय के लिए हुई कटौती

रिजर्व बैंक ने मोबाइल एप बनाने के लिए तकनीकी कंपनियों से बोलियां मंगाई है। केंद्रीय बैंक ने कहा है, ''मोबाइल एप महात्मा गांधी श्रृंखला और महात्मा गांधी (नई) श्रृंखला के वैध नोटों को मोबाइल कैमरे के सामने रखने या सामने से गुजारने पर पहचानने में सक्षम होना चाहिए।’’ इसके अलावा यह मोबाइल एप किसी भी एप स्टोर में वॉयस के जरिए खोजे जाने लायक होना चाहिए।

18 मई के आस-पास भारतीय मार्केट में उपलब्ध हो सकता है Oppo F11 स्मार्टफोन

रिजर्व बैंक ने कहा कि एप को दो सेकंड में नोट की पहचान करने में सक्षम होना चाहिए तथा यह बिना इंटरनेट के भी काम करने में सक्षम होना चाहिए। इनके अलावा एप बहुभाषी तथा आवाज के साथ नोटिफिकेशन देने योग्य होना चाहिए। कम से कम एप हिंदी और अंग्रेजी में होना ही चाहिए। देश में 80 लाख लोग हैं जो या तो नेत्रहीन हैं या फिर उन्हें देखने में कठिनाई होती है। रिजर्व बैंक के इस कदम से इन लोगों को मदद मिलेगी।-एजेंसी

गूगल ने लांच किए अपने सबसे सस्ते स्मार्टफोन, जानिए फीचर और कीमत



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.