खतरों से खाली नहीं रेगिस्तान में ट्रैवल करना

Samachar Jagat | Thursday, 24 Nov 2016 12:13:48 PM
खतरों से खाली नहीं रेगिस्तान में ट्रैवल करना

ट्रैवलिंग की बात करें तो एडवेंचर प्रेमियों के लिए क्या रेगिस्तान और क्या पहाड। अगर उन्हें चाहिए तो रोमांच से भरी हुई यात्रा। जिसके लिए उन्हें कुछ भी करना पड़े तो वे अवश्य करेगें। लेकिन वहीं बात करें रेगिस्तान की तो हमारी नजरों के सामने रेत के बड़े-बड़े टीले, ऊंट की सवारी और छोटे-छोटे टैंटों के दृश्‍य आ जाते है।

जन्नत से कम नहीं है इन गांवो की खूबसूरती

अगर आप भी रेगिस्तान में ट्रैवल का मानस बना रहे है तो पहले सावधान हो जाएं। और ये गलतियां कभी ना करें जो अक्सर कर बैठते है। वैसे तो रेगिस्‍तान में ट्रैवल करने का भी अपना एक अलग मजा है। लेकिन अगर रेगिस्‍तान में बिना तैयारी के ट्रैवल किया जाए तो आपको कई ऐसी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है जो आपकी मुसीबतों को बढ़ा भी सकता है। तो आइए कुछ ऐसे टिप्स के बारे में बात की जाएं इन्हें आप अवश्य करना ना भूलें।    

जीपीएस रखें

कहते हैं कि रेत पर पैरों के निशान नहीं रहते। रेत में चलते हुए अगर आप कुछ देर बाद अपने पीछे देखें तो आपको अपने पैरों के निशान नजर नहीं आएंगे। क्योंकि लगातार चलती हवाओं से रेत के टीले अपनी जगह बदलते रहते हैं। इस स्थिति में अक्सर रेगिस्‍तान में इंसान बहुत आसानी से खो जाते हैं। इसलिए अपने साथ एक जीपीएस जरूर रखें। इसके अलावा अपने साथ एक आइना या एल्‍यूमिनियम का टुकड़ा भी रखें। अगर आप रेगिस्‍तान में खो जाते हैं, तो आइने की चमक से आप अपनी लोकेशन बता सकते हैं और किसी की मदद ले सकते हैं।

बाहर से शांत और अंदर से खतरनाक हैं ये जंगल

पानी पीते रहें

रेगिस्तान की जलवायु सर्दी और गर्मी दोनों में शुष्क होती है। इसलिए ट्रैवलिंग के दौरान अगर आपने लगातार पानी नहीं पीया तो आपके शरीर में पानी की कमी हो जाएगी और बहुत जल्‍दी आप डीहाइड्रेशन का शिकार हो जाएंगे। इस परेशानी से बचने के लिए लगातार पानी पीते रहें। डॉक्‍टर्स की मानें तो रेगिस्‍तान में ट्रैवल करते समय एक व्‍यक्ति को दिन में एक गैलन यानी लगभग 4-5 लीटर पानी पीना चाहिए। इसके अलावा अपने साथ बहुत सारे एनर्जी पाउडर जैसे ग्‍लूकोस, ओआरएस और इलैक्ट्रोपाउडर  के पाउच रखें। इनकी आपको किसी भी समय जरूरत पड़ सकती है।

कपड़े

रेगिस्‍तान में तापमान बहुत ज्‍यादा होने के साथ ही ये तेजी से बदलता है। जहां दिन के समय बहुत ज्‍यादा गर्मी होती है वहीं रात को तापमान बड़ी तेजी से नीचे गिरता है। ऐसे में लू और हाइपोथर्मिया से बच कर रहने की जरूरत होती है। दिन के समय टोपी, सनग्‍लासेस और सनस्‍क्रीन लोशन लगाकर ही बाहर निकलें ताकि धूप से बचाव हो सके। इसके अलावा अपने साथ एक जैकेट लेकर निकलें, ये शाम को तापमान गिरने पर आपके काम आएगी।

जल्द ही भारत में पेश किया जाएगा नूबिया Z11 स्मार्टफोन 

चाय के कप को पकड़नें का सही तरीका क्या आप जानते है.....

जल्द भारतीय बाजार में दस्तक देगीं ये परफॉर्मेंस बाइक्स

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर
ज्योतिष

Copyright @ 2016 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.