अपने तटीय शहरों को पर्यटन केंद्रों के रूप में विकसित कर रहा है केरल

Samachar Jagat | Monday, 12 Mar 2018 11:14:07 AM
Kerala is developing its coastal cities as tourist centers

कोलकाता। केरल आने वाले लोग या तो समुद्री तटों का रुख करते हैं या फिर हिल स्टेशन जाते हैं और उन्हें तटीय शहरों की समृद्ध विरासत की अधिक जानकारी नहीं होती। दक्षिणी राज्य के एक सरकारी अधिकारी ने यह कहा। केरल पर्यटन विभाग के अतिरिक्त महानिदेशक जफर मलिक ने बताया कि मालाबार क्षेत्र के ऐतिहासिक स्थलों का विकास कर उन्हें पर्यटन का केंद्र बनाया जाएगा।

इस अनोखे होटल में ठहरने के लिए टूरिस्ट रहते हैं बेताब

अधिकारी ने बताया कि किसी समय रोम और यूनान तथा विश्व के अन्य क्षेत्रों से आने वाले कारोबारियों के लिए मुजिरिस बंदरगाह, कोदुनगल्लूर, पत्तनम और पारावुर शहर व्यापार का केंद्र हुआ करते थे।

इस बार तय समय से पहले बंद हो जाएगा मुगल गार्डन

उन्होंने कहा, '' उत्तर केरल के ऐतिहासिक शहरों और बंदरगाह के अवशेषों की खुदाई की गई और मरम्मत कर बहुत हद तक पर्यटन स्थल के रूप में तैयार किया गया।’’ अधिकारी ने बताया कि केरल पांच वर्षों में घरेलू पर्यटकों की संख्या में 50 फीसदी इजाफा करना चाहता है।

पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र है यह चाय की दुकान

वर्ष 2016 में यह आंकड़ा 1.31 करोड़ था जिसे बढ़ाकर 2.5 करोड़ करने का लक्ष्य है। केरल में विदेशी पर्यटकों की संख्या वर्ष 2016 में करीब 10 लाख थी और पर्यटन विभाग 2022 तक इसे 100 फीसदी बढ़ाना चाहता है।-एजेंसी



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.