करीब 5 प्रतिशत गिर सकती है केरल में पर्यटकों की संख्या

Samachar Jagat | Monday, 27 Aug 2018 11:16:35 AM
Number of tourists in Kerala may fall around 5%

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

मुंबई। बाढ़ प्रभावित केरल में पर्यटकों की संख्या 4 - 5 प्रतिशत गिरने के आसार है। राज्य के पर्यटन विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि यदि अक्टूबर से पर्यटकों के आगमन की रफ्तार नहीं बढ़ी तो इस बार आगंतुकों की संख्या 4 से 5 प्रतिशत कम हो सकती है। पर्यटन क्षेत्र केरल की अर्थव्यवस्था का एक प्रमुख अंग है। केरल में 1924 के बाद की सबसे भयावह बाढ़ आई है। इसमें 250 से अधिक लोगों की मौत हुई है और 15 लाख लोगों को घर बार छोड़ राहत शिविरों में रहना पड़ रहा है। कोच्चि हवाई अड्डा 16 अगस्त से बंद पड़ा है। 29 अगस्त से पहले इसके शुरू होने की उम्मीद नहीं है। 

भारत में ही नहीं पूरे विश्व में अपने एक सींग वाले गैंडें के लिए जाना जाता है काजीरंगा नेशनल पार्क

केयर रेटिंग रिपोर्ट के अनुसार कोच्चि और एर्नाकुलम क्षेत्र राज्य के पर्यटन उद्योग में 52 प्रतिशत योगदान है। जबकि ये दोनों क्षेत्र करीब दो सप्ताह से जलमग्न हैं। केरल पर्यटन के निदेशक पी बाला किरण ने कहा, हमने पहली तिमाही में 17 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की। हालांकि, दूसरी तिमाही में निपा वायरस के चलते पर्यटकों की संख्या में 14 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई है। 

Due to rain and flood, many tourist sites in Kerala were affected

उन्होंने कहा कि बाढ़ की वजह से अगस्त और सितंबर में भी लोगों ने अपनी यात्रायें रद्द कीं, जिसका असर राज्य के कारोबार पर पड़ेगा। उन्होंने कहा कि यदि अक्टूबर में चीजों में सुधार आया, तो पर्यटकों की संख्या में वृद्धि हो सकती है। यदि ऐसा नहीं होता है तो पिछले वर्ष के मुकाबले इस वर्ष पर्यटकों की संख्या में 4 - 5 प्रतिशत की गिरावट हो सकती है। -एजेंसी 

पूरे विश्व में प्रसिद्ध हैं राजस्थान के इस शहर की हवेलियां , पर्यटकों को पसंद आता है यहां का शांत माहौल

दिन में दो बार गायब होता है गुजरात का ये मंदिर , देशी और विदेशी पर्यटकों की रहती है भीड़


 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.