सैलानियों के बीच आकर्षण का केंद्र बने हुए हैं ये लंबे रेल रूट

Samachar Jagat | Saturday, 13 Jan 2018 05:16:01 PM
These long rail routes are the center of attraction among tourists

इंटरनेट। डेस्क कई लोगों को रेल में सफर करना अच्छा लगता है, कुछ जगहों पर तो अपने गंतव्य तक जाने में कई दिन लग जाते हैं। इन रेलों के लंबी दूरी तय करने के कारण ये सैलानियों के बीच आकर्षण का केंद्र बने हुए हैं। यहां हम आपको ऐसी ही कुछ खास रेलों के बारे में बता रहे हैं, आइए जानते हैं लंबी दूरी की कुछ खास रेलों के बारे में...

भगवान श्रीकृष्ण ने इस छोटी सी चीज को क्यों दिया इतना महत्व

ट्रांस साइबेरियन, रूस :-

अगर आप इस रेल में बैठकर मॉस्को से व्लादीवोस्तोक तक जाते हैं तो आपको 6 दिनों तक इस रेल में सफर करना होगा। मॉस्को से व्लादीवोस्तोक की दूरी 9258 कि.मी है, जिसे तय करने में 6 दिनों का समय लगता है।

आज भी अनसुलझे हैं तिरुपति बालाजी मंदिर के ये रहस्य

इंडियन पैसिफिक, ऑस्ट्रेलिया :-

ऑस्ट्रेलिया के सिडनी से पर्थ तक का सफर ट्रेन में तय करने में 65 घंटे लगते हैं। इस सफर की दूरी लगभग 4351 है। इसी कारण यहां लोग हवाई जहाज से जाना पसंद करते हैं।

इस राक्षस की वजह से यहां पर मिलता है पितरों को मोक्ष!

विवेक एक्सप्रेस, भारत :-

विदेश नहीं भारत में भी ऐसी रेल है जो लंबे सफर के लिए जानी जाती है, आपको बता दें कि भारत में चलने वाली विवके एक्सप्रेस से डिब्रूगढ़ से कन्याकुमारी तक का सफर तय करने में करीब 82 घंटे का समय लगता है।

शास्त्रों के अनुसार क्यों नहीं लगाना चाहिए झाड़ू को पैर



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.