दिन में दो बार गायब होता है गुजरात का ये मंदिर, देशी और विदेशी पर्यटकों की रहती है भीड़

Samachar Jagat | Saturday, 04 Aug 2018 11:47:57 AM
This temple of Gujarat disappears twice a day

इंटरनेट डेस्क। भगवान शिव के मंदिरों में लोग पूजा करने के लिए तो जाते ही हैं वहीं कुछ मंदिर ऐसे हैं जो अपनी अनोखी खासियत की वजह से पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र बने हुए हैं। इन मंदिरों को देखने के लिए देशी और विदेशी पर्यटकों का तांता लगा रहता है। हम आपको यहां इन्हीं में से एक खास मंदिर के बारे में बता रहे हैं जहां लोग पूजा करने के साथ ही इन मंदिर की अनोखी खासियत की वजह से यहां आते हैं। विदेशी पर्यटकों को तो ये मंदिर बहुत पसंद आता है। आइए जानते हैं भगवान शिव के इस अनोखे मंदिर के बारे में .........

गुजरात के वड़ोदरा से कुछ दूरी पर जंबूसर तहसील के कावी कंबोई गांव में भगवान शिव का यह मंदिर दिन में दो बार गायब हो जाता है। स्तंभेश्वर महादेव के इस मंदिर को लोग गायब होने वाले मंदिर के नाम से पहचानते हैं। जो पर्यटक यहां घूमने के लिए आते हैं वे ये देखकर हैरान रह जाते हैं कि कैसे सुबह और शाम कुछ पलों के लिए दिन में ये मंदिर देखते ही देखते उनकी आंखों से ओझल हो जाता है। कुछ समय बाद ये वापस उसी स्थान पर नजर आने लगता है। 

अगर आप भी Waterfalls के इन खूबसूरत नजारों को देखना चाहते हैं तो जाएं झारखंड

आपको बता दें कि ये मंदिर समुद्र किनारे बना हुआ है और जैसे ही समुद्र में ज्वार-भाटा उठता है तब पूरा मंदिर समुद्र में समा जाता है। यही वजह है कि लोग मंदिर के दर्शन तभी तक कर सकते हैं, जब समुद्र में ज्वार कम हो। अपनी इसी खासियत की वजह से ये मंदिर लोगों को अपनी ओर आकर्षित करता है। 

लोगों में बढ़ रहा है क्रूज ट्रेवलिंग का क्रेज, भारत में आकर विदेशी पर्यटक भी उठा रहे हैं लुत्फ

पूरे विश्व में प्रसिद्ध हैं खजुराहो के मंदिर, यहां तेजी से होना चाहिए पर्यटन विकास   



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.