जानिए क्यों भरी जाती है चिप्स के पैकेट में गैस

Samachar Jagat | Sunday, 11 Feb 2018 10:46:19 AM
Know why it is packed in chips packs of gas
Rajasthan Tourism App - Welcomes to the lend of Sun, Send and adventures

इंटरनेट डेस्क। अपने देखा होगा की जब हम चिप्स का पैकेट खरीदते है तो वो फुला -फुला होता है। और जब हम उसे खोलते है तो उसमे एक तरह की हवा सी निकलती है। हालांकि कई बार आपके जहन में यह जरूर आया होगा कि आखिर चिप्स के पैकेट में इतनी गैस या हवा क्यों भरी होती है। कई बार तो आप बड़े से बड़ा पैकेट खरीदतें होगें लेकिन उसमें महज 5 से 6 चिप्स ही निकलती है। चिप्स के अंदर इतनी गैस भरे जाने के पीछे तीन कारण बताएं जातें है।

अब पुलिसकर्मी करेंगे गाइड का भी काम

चिप्स के पैकेट में इतनी गैस इसलिए भरी जाती है कि वह आपस में टकराए नहीं और टूटे नहीं। हालांकि ट्रकों में लादकर जब चिप्स के पैकेट्स को एक जगह से दूसरी जगह ले जाया जाता है तो उनके टूटने का खतरा सबसे ज्यादा रहता है। लिहाजा पैकेट्स में गैस भरी होने से चिप्स साबुत बनी रहती हैं।

ये कारण है की महिलाओं का श्मशाम में जाना मना है......

चिप्स के पैकेट्स में ऑक्सीजन नहीं होती बल्कि नाइट्रोजन गैस होती है। यह एक वैज्ञानिक कारण है। ऑक्सीजन के संपर्क में आने से खाने पीने की चीजें खराब होने लगती है। जैसे सेव को काटकर ज्यादा देर रख देतें है तो वह काला होने लगता है, दरअसल वो ऑक्सीजन के संपर्क में आने से होता है। पैकेट्स के अंदर नाइट्रोजन होने से चिप्स में बैक्टिरिया नहीं लगते और वो नमी से भी बची रहतीं हैं जिससे उनका करारापन बरकार रहे।

सेनेटरी नैपकिन बांटकर मनाई शादी की सालगिरह

अगर आपके सामने एक हवा से भरी चिप्स का पैकेट और एक बिल्कुल पिचका हुआ पैकेट रखा हो तो आप हवा से ठसाठस भरे पैकेट को ही खरीदेगें। दरअसल मानव स्वभाव ऐसा ही होता है। उसी को ध्यान में रखकर कंपनियां चिप्स के पैकेट को अत्यधिक बड़ा बनाती है और हवा से ठसाठस भरा हुआ होता है।

sourse google 

अगर आप भी है किताबी कीड़ा तो इन लाइब्रेरी में जरूर एक बार जाएं...

पहली बार हमारी आकाशगंगा के बाहर ग्रहों की खोज हुई 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the lend of Sun, Send and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.