प्रसाद के रूप में इस मंदिर में चढ़ाया जाता है प्याज

Samachar Jagat | Wednesday, 11 Oct 2017 03:54:52 PM
Onion is offered in this temple as Prasad

इंटरनेट डेस्क। अपने देखा होगा कोई भी शुभ कार्य होता है और उसमे जब भगवान का भोग बनता है तो उसमे प्याज नहीं डाला जाता है और ना ही व्रत में प्याज खाया जाता है। इसके पीछे लोगो की धरना यह है की प्याज तामसी भोजन माना जाता है। लेकिन ये जानकर हैरान रह जायेंगे की एक मंदिर है वहां भगवान को प्रसाद के रूप में प्याज चढ़ाया जाता है......

रिसर्च: गलियां देने वाले होतें है ज्यादा इंटेलीजेंट


दरसल, राजस्थान में गोगामेड़ी स्थित गोगाजी और गुरु गोरखनाथ मंदिर भारत में ऐसा यह पहला मंदिर है जहां पर भगवान को प्याज चढ़ाया जाता है। खबर के मुताबिक, भादो महीने की शुरुआत में यहां 15 दिन का मेला लगता है। इस दौरान यहां 40-50 लाख लोग दर्शन के लिए पहुंचते हैं जिससे यहां सैकड़ों क्विंटल प्याज इकट्‌ठा हो जाती है। इसे बेचकर प्राप्त पैसे से भंडारा और गौशाला चलाई जाती है।

इसे कहते है टेलेंट.... दिव्यांग होने के बावजूद है प्रोफेशनल फोटोग्राफर

आपको बता दे की करीब एक हजार साल पहले यहां गोगाजी और आक्रमणकारी महमूद गजनवी के बीच युद्ध हुआ था। गोगाजी ने विभिन्न स्थानों से सेनाएं बुलाई थीं। जो अपने साथ रसद के तौर प्याज और दाल लाए थे। युद्ध में गोगाजी वीरगति को प्राप्त हुए। वापसी में सहायक सेनाएं प्याज और दाल गोगाजी की समाधि पर अर्पित करके चली गईं। तब से यह परंपरा बन गई।

sousre google 

एक छोटी सी घटना से मोटिवेट होकर, बिना पैसे पूरा इंडिया घूम रहे है ये जनाब

अंधविश्वास के नाम पर दिवाली के दिन चढ़ाई जाती है उल्लू की बलि

जानिए किस डर की वजह से यहां की सुहागिनें नही करती करवा चौथ का व्रत

 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2017 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.