'सुपर अर्थ' की हुई खोज, जाने कैसे 

Samachar Jagat | Monday, 21 Nov 2016 01:39:27 PM
'सुपर अर्थ' की हुई खोज, जाने कैसे 

 

वैज्ञानिको ने खोज की है एक नए ग्रह की। नाम भी कुछ मिलता जुलता है, जिसे सुनकर चौक जाएंगे आप। इस नए ग्रह का नाम 'सुपर अर्थ' है। इसका वज़न पृथ्वी के वजन से 5.4 गुना ज्यादा है। ये सूरज के करीब बेहद चमकीले तारे की तरह दीखता है। 

इस युवती को है ‘अजब एलर्जी’

शोधकर्ताओं ने कहा कि बाहरी ग्रह ‘जीजे 536 बी’ तारे के आवासीय क्षेत्र में नहीं है लेकिन 8.7 दिनों का इसका संक्षिप्त परिक्रमण काल और इसके तारे की चमक इसे एक ऐसा आकर्षक पिंड बनाती है, जिसकी पर्यावरणीय संरचना का अध्ययन किया जा सकता है. अनुसंधान के दौरान सूर्य जैसी चुंबकीय गतिविधियों का एक चक्र पाया गया लेकिन यह तीन साल की संक्षिप्त अवधि के लिए है। 

खुले में शौच करने वालों सावधान देखते ही बज जाएगी सीटी

स्पेन में यूनिवर्सिटी ऑफ ला लगुना और इंस्टीट्यूटो डी एस्ट्रोफिसिका डी कैनारियास के एलेजेंद्रो सुआरेज मैसकारेनो ने कहा, ‘‘अब तक जिस ग्रह को हमने खोजा है, वह जीजे 536बी है लेकिन हम तारे का निरीक्षण जारी रखे हुए हैं ताकि अन्य ग्रहों का पता लगा सकें। ’’ यह परिणाम एस्ट्रोनॉमी एंड एस्ट्रोफिजीक्स नामक पत्रिका में प्रकाशित किए गए हैं। 

read more:

कितना जानते है आप स्मार्टफोन में डाली जानें वाली सिम के बारे में?

एप्पल 2017 में पेश कर सकता है आईपैड प्रो

लैपटॉप चार्जर से जुड़ी ये बात जिसके बारे में नहीं जानते होगें आप

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर
ज्योतिष

Copyright @ 2016 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.