BREAKING NEWS
Hindi NewsSearch Result for " "
सऊदी अरब के नागरिक और वाशिंगटन पोस्ट के लिए काम कर रहे पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या के मामले में ईरान का रवैया एक मूक दर्शक जैसा है और इसने उसके क्षेत्रीय प्रतिदंद्बी सऊदी अरब के लिए एक तरह से संकट पैदा कर दिया है।
सोशल मीडिया पर ‘मी टू’ के तहत चल रहे अभियान में संगीतकार अनु मलिक पर एक बार फिर से उत्पीडऩ का आरोप लगा है। गायिका श्वेता पंडित ने बुधवार को उनपर आरोप लगाया है कि जब वह नाबालिग थीं तो अनु मलिक ने उनका उत्पीडऩ किया था।
बॉलीवुड अभिनेता नाना पाटेकर के हाउसफुल 4 में शूट किये गये सीन्स को नही काटे जाने की चर्चा है। तनुश्री दत्ता के द्वारा यौन शोषण का आरोप लगाये जाने के बाद नाना पाटेकर ने हाउसफुल 4 से खुद को अलग कर लिया है। नाना पाटेकर पर हाल ही में कुछ सीन्स फिल्माये गये थे।
उत्तर प्रदेश के गोरखपुर स्थित गोरखनाथ मंदिर के गोरखपीठाधीश्वर योगी आदित्यनाथ धार्मिक अनुष्ठान के बाद शुक्रवार को विजयदशमी के अवसर पर विजय जुलूस में शामिल होंगे। गोरखनाथ मंदिर में विजयदशमी का पर्व गोरक्षपीठ और गोरखनाथ मंदिर के संयोजन के बगैर अधूरा माना जाता है।
उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले में दो अलग अलग क्षेत्रों में गुरूवार को हुई सडक़ दुर्घटनाओं में तीन व्यक्तियों की मृत्यु हो गई तथा एक अन्य गंभीर रूप से घायल हो गया।
बिहार की राजधानी पटना और इससे लगे भोजपुर जिले में दो सडक़ दुर्घटनाओं में आज पांच युवक समेत सात लोगों की मौत हो गयी तथा एक अन्य गंभीर रूप से घायल हो गया। 
बॉलीवुड अभिनेता आयुष्मान खुराना फिल्म की सफलता के लिये स्क्रिप्ट को महत्वपूर्ण मानते हैं। आयुष्मान ने अपने सिने करियर की शुरूआत फिल्म‘विकी डोनर’से की थी।
न्यूयॉर्क। प्रसिद्ध अर्थशास्त्री अरविंद पनगढ़िया विभिन्न प्रतिष्ठित विश्वविद्यालयों के नीति विशेषज्ञों और शिक्षाविदों को एक मंच पर लाने की मुहिम चला रहे हैं । ये विशेषज्ञ और अर्थशास्त्री भारत में 2019 के आम चुनाव के बाद बनने वाली नई सरकार को भारतीय अर्थव्यवस्था के समक्ष मौजूद चुनौतियों से निपटने में मदद देंगे। ऐसे में नई सरकार अपने सुधार एजेंडा को तैयार कर सकेगी । 
यौन शोषण के आरोपों के चलते विदेश राज्य मंत्री के पद से इस्तीफा देने वाले एम जे अकबर 1989 में कांग्रेस के उम्मीदवार के रूप में पहली बार बिहार के किशनगंज से लोकसभा के लिए चुने गए थे और पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के प्रवक्ता भी रहे थे।
नई दिल्ली।  माल एवं सेवाकर ( जीएसटी ) के तहत कंपोजिशन स्कीम का लाभ लेने वाले कारोबारियों को अपने तिमाही रिटर्न जीएसटीआर - 4 में खरीद की विस्तृत जानकारी देने की जरूरत नहीं। वित्त मंत्रालय ने बुधवार को यह जानकारी दी। मंत्रालय ने स्पष्ट किया कि तिमाही रिटर्न दाखिल करने के लिए जीएसटीआर - 4 फार्म में भरी जाने वाली जानकारियों को लेकर कई संदेह हैं।

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.