तीसरी तिमाही में 10,000 सामग्री के विश्लेषण में 10 से 11 नफरत भरे भाषण थे : Facebook

Samachar Jagat | Friday, 20 Nov 2020 06:46:01 PM
An analysis of 10,000 material in the third quarter had 10 to 11 hate speeches: Facebook

नयी दिल्ली। सोशल मीडिया मंच 'फ़ेसबुक’ ने पहली बार अपने मंच पर मौजूद नफरत भरे भाषणों का खुलासा करते हुए कहा कि उस पर डाली गई सामग्री में से तीसरी तिमाही में करीब 1०,००० सामग्री के विश्लेषण में 1० से 11 नफरत भरे भाषण थे।

दुनिया भर में रोजाना 182 करोड़ लोग फ़ेसबुक का इस्तेमाल करते हैं। भारत इसका सबसे बड़ा बाजार है, जहां हाल ही में नफरत भरे भाषणों से निपटने के इसके तरीकों को लेकर काफी विवाद खड़ा हो गया था। सितम्बर 2०2० तिमाही की अपनी 'कम्युनिटी स्टैंडर्ड इन्फोर्समेंट रिपोर्ट’ में फ़ेसबुक ने कहा कि ''वह पहली बार’’ दुनिया भर में उसके मंच पर मौजूद नफरत भरे भाषणों की जानकारी साझा कर रहा है।

उसने कहा, '' 2०2० की तीसरी तिमाही में ०.1० या ०.11 प्रतिशत नफरत भरे भाषण थे, कहा जा सकता है कि करीब 1०,००० सामग्री के विश्लेषण में 1० से 11 प्रतिशत नफरत भरे भाषण थे।’’ फ़ेसबुक ने कहा कि कृत्रिम बुद्धिमत्ता में अपने निवेश के कारण, कम्पनी नफरत भरे भाषण हटाने में अधिक सक्षम हुई है और उपयोगकर्ताओं द्बारा इसकी रिपोर्ट करने से पहले इसे हटाया गया है।

उसने कहा कि इंस्टाग्राम पर, कम्पनी ने 65 लाख, नफरत भरे भाषणों से जुड़ी सामग्री के खिलाफ कार्रवाई की गई। फ़ेसबुक के उपाध्यक्ष गाय रोसेन ने कहा कि कम्पनी अतिरिक्त नीतियों को शामिल करने के लिए अपनी 'कम्युनिटी स्टैंडर्ड’ वेबसाइट को भी अद्यतन कर रही है । (एजेंसी)  



 
loading...




Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.