अर्थव्यवस्था को महामारी के कहर से बचाने के लिए रिजर्व बैंक ने अप्रत्याशित संकट से निपटने के लिए 100 से अधिक उपाय किए - आरबीआई गवर्नर

Samachar Jagat | Friday, 08 Oct 2021 01:30:56 PM
To save the economy from the havoc of the pandemic, the Reserve Bank took more than 100 measures to deal with the unexpected crisis - RBI Governor

इंटरनेट डेस्क। भारतीय रिज़र्व बैंक गवर्नर शक्तिकांत दास ने आज शुक्रवार को मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि वित्त वर्ष 2021-22 के लिए वास्तविक जीडीपी वृद्धि का अनुमान 9.5% पर बरकरार रखा गया है। वित्त वर्ष 2022-23 की पहली तिमाही के लिए वास्तविक जीडीपी वृद्धि का अनुमान 17.2% है। 

 

वित्त वर्ष 2021-22 के लिए वास्तविक जीडीपी वृद्धि का अनुमान 9.5% पर बरकरार रखा गया है। वित्त वर्ष 2022-23 की पहली तिमाही के लिए वास्तविक जीडीपी वृद्धि का अनुमान 17.2% है : आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास pic.twitter.com/OCf2tZ7Z4X — ANI_HindiNews (@AHindinews) October 8, 2021

एएनआई न्यूज एजेंसी के अनुसार, आरबीआई गवर्नर ने कहा कि इस अवधि में अर्थव्यवस्था को महामारी के कहर से बचाने के लिए रिजर्व बैंक ने अप्रत्याशित संकट से निपटने के लिए 100 से अधिक उपाय किए हैं। हमने वित्तीय बाजार को चालू रखने के लिए नए और अपरंपरागत उपाय करने में संकोच नहीं किया है।

रिजर्व बैंक आफ इंडिया के गवर्नर ने कहा कि पिछली एमपीसी बैठक के तुलना में आज भारत बहुत बेहतर स्थिति में है। विकास की गति मजबूत होती दिख रही है। मुद्रास्फीति ट्रेजेक्टरी अनुमान से अधिक अनुकूल हो रही है। 



 
loading...



Copyright @ 2021 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.