Vivo का अगले साल के अंत तक विनिर्माण में 40 प्रतिशत स्थानीय कलपुर्जे उपयोग का लक्ष्य

Samachar Jagat | Tuesday, 03 Nov 2020 05:24:36 PM
Vivo aims to use 40 percent local parts in manufacturing by the end of next year

नयी दिल्ली, दो नवंबर (भाषा) स्मार्टफोन बनाने वाली कंपनी वीवो इंडिया का अगले साल के अंत विनिर्माण में कम से कम 4० प्रतिशत स्थानीय कलपुर्जे इस्तेमाल करने का लक्ष्य है। वर्तमान में चीन की यह कंपनी अपने घरेलू विनिर्माण का 15 प्रतिशत स्थानीयकरण कर चुकी है।

वीवो इंडिया, चीन के ओप्पो, वनप्लस और रियलमी जैसे प्रमुख मोबाइल ब्रांड की मालिक कंपनी बीबीके इलेक्ट्रानिक्स की भारतीय अनुषंगी है। कंपनी का घरेलू विनिर्माण संयंत्र उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा में है।
वीवो इंडिया के ब्रांड रणनीति निदेशक निपुण मार्या ने भाषा से कहा, ''हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 'मेक इन इंडिया’, 'वोकल फॉर लोकल’ और 'आत्मनिर्भर भारत’ अभियान का पूरा समर्थन करते हैं। अभी हम अपने घरेलू विनिर्माण में 15 प्रतिशत स्थानीय कलपुर्जों का इस्तेमाल करते हैं। अगले साल के अंत तक इसे बढ़ाकर 4० प्रतिशत करने का लक्ष्य है।’’

बाजार में चीनी सामान या ब्रांड के बहिष्कार की धारणा को लेकर किए एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा, '' बाजार में 'चीन-विरोधी’ धारणा है। लेकिन जहां तक मोबाइल फोन खरीदने की बात है तो ग्राहक वीवो इंडिया को एक अंतरराष्ट्रीय ब्रांड के तौर पर देखते हैं। इसलिए 2०2० की तीसरी तिमाही में कंपनी घरेलू स्मार्टफोन बाजार में शीर्ष तीन में शामिल रही। त्यौहारी मौसम की शुरुआत ने भी इसमें हमारी मदद की।’’
बाजार रणनीति पर मार्या ने कहा कि उनका ज्यादा ध्यान ऑफलाइन बाजार पर है क्योंकि 'आत्मनिर्भर भारत’ बनाने में खुदरा क्षेत्र का बड़ा योगदान है।

उन्होंने कहा, ''वर्तमान में हम देश की 7०,००० से ज्यादा खुदरा दुकानों पर मौजूद हैं। इनमें करीब 3०,००० दुकानों पर कंपनी ने प्रत्यक्ष तौर पर युवक-युवतियों को ब्रांड एंबेसडर के तौर पर रोजगार दिया है। ग्रेटर नोएडा स्थित विनिर्माण संयंत्र में भी 1०,००० लोगों को रोजगार मिला है।’’ (एजेंसी)



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.