राजस्थान में नये चिकित्सा महाविद्यालयों के निर्माण में तेजी लाने के लिये अतिरिक्त धनराशि मंजूर

Samachar Jagat | Wednesday, 12 Aug 2020 01:46:02 PM
Additional funds sanctioned to speed up construction of new medical colleges in Rajasthan

जयपुर। राजस्थान में राज्य सरकार ने सात जिलों में सोसायटी के अधीन संचालित होने वाले नये चिकित्सा महाविद्यालयों के निर्माण की प्रक्रिया में तेजी लाने के लिए और पांच महाविद्यालयों में 5० अतिरिक्त सीटों पर प्रवेश के लिए अतिरिक्त धनराशि जारी करने का निर्णय लिया है।

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज बताया कि इन महाविद्यालयों के लिए कुल संभावित लागत राशि 2441.89 करोड़ रूपए है जबकि केंद्र सरकार ने इसके लिये 1623 करोड़ रुपये स्वीकृत किये हैं। इसके बीच के अंतर के रूप में 819.49 करोड़ रूपए की अतिरिक्त राशि के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी गयी है।

उन्होंने बताया कि भीलवाड़ा, भरतपुर, पाली, चूरू, सीकर, बाड़मेर और डूंगरपुर जिलों में राजस्थान मेडिकल सोसायटी (राजमेस) के अधीन नए चिकित्सा महाविद्यालय संचालित किए जाएंगे। प्रथम चरण में इन महाविद्यालयों में 1०० सीटों पर प्रवेेश के लिए प्रति कॉलेज 189 करोड़ रूपए की लागत राशि स्वीकृत की गई, जिसमें केन्द्र और राज्य सरकार की हिस्सेदारी 6०:4० की है। केन्द्र सरकार द्बारा इनमें से पांच चिकित्सा महाविद्यालयों में प्रत्येक के लिये 5० अतिरिक्त सीटों पर प्रवेश के लिए प्रति कॉलेज लागत राशि में 6० करोड़ रूपए की वृद्धि की स्वीकृति भी दी है।

श्री गहलोत ने बताया कि सभी सात नए मेडिकल कॉलेजों के लिए वास्तविक लागत राशि और विस्तृत कार्ययोजना के आधार पर कुल परियोजना राशि के बीच के अंतर के साथ-साथ पांच कॉलेजों भीलवाड़ा, भरतपुर, पाली, चूरू एवं डूंगरपुर में प्रति कॉलेज 5० अतिरिक्त सीटों पर प्रवेश के चलते लागत राशि में अभिवृद्धि सहित कुल 819.49 करोड़ रूपए वहन करने को मंजूरी दी है।

उल्लेखनीय है कि इस अतिरिक्त राशि से सात नए चिकित्सा महाविद्यालयों से संबद्ध होने वाले जिला अस्पतालों में मरम्मत, उन्नयनीकरण और बेड संख्या में वृद्धि के कार्य किए जाएंगे। राज्य सरकार के इस निर्णय से सभी सातों चिकित्सा महाविद्यालयों के निर्माण कार्यों में गति आएगी तथा बढ़ी हुई 25० सीटों सहित कुल 95० सीटों पर प्रवेश के साथ महाविद्यालयों का संचालन सुचारू रूप से हो सकेगा। (एजेंसी) 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.