Barmer District : देश में कोरोना की सबसे ह्रदय विदारक घटना...पिता को खोने का गम बर्दाश्त नहीं कर पाई बेटी तो जलती चिता में कूद गई, बड़ी बहन ने दिखाया साहस, बचा ली जिंदगी..!

Samachar Jagat | Wednesday, 05 May 2021 10:09:16 AM
Barmer District: Corona's most heartbreaking event in the country ... The daughter could not bear the sorrow of losing her father, the daughter jumped into the burning pyre, the elder sister showed courage, saved her life ..!

इंटरनेट डेस्क। कोरोना के बढ़ते खौफ के बीच राजस्थान के बाड़मेर जिले से एक अत्यंत ही ह्रदयविदारक घटना सामने आई है। यहां कोरोना वायरस से जब पिता की मौत हो गई तो पिता का चेहरा भी नहीं देख पाने का गम बेटी को इतना सता गया कि उसने अंतिम संस्कार के दौरान पिता की जलती चिता में कूदकर खुद को भी खत्म करना चाहा। हालांकि बड़ी बहन की तत्परता ने उसे बचा लिया। लेकिन तब तक युवती करीब 70 फीसदी तक चल चुकी थी। युवती को अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है जहां उसकी हालत लगातार गंभीर बनी हुई है। 

ये मामला कोरोना के खौफ और अपनों के खौने की पीड़ा को बयां कर रहा है। ऐसी घटनाएं शरीर को सुन्न कर रही हैं। कोरोना से सोचने समझने की शक्ति को क्षीर्ण कर दिया है। ये वायरस तो जान ले ही रहा है साथ ही इसके डर से भी ना जाने कितनी मौतें हमारे आसपास लगातार हो रही हैं। 

बाड़मेर पुलिस के अनुसार, रॉय कॉलोनी निवासी दामोदर दास शारदा की कोविड-19 से मौत हो जाने के बाद जिला मुख्यालय के श्मशान घाट पर उनके अंतिम संस्कार की तैयारियां चल रही थीं। चिता को मुखाग्नि भी दे दी गई थी। परिजन भी इस दौरान पास ही बैठे थेस तभी उनकी छोटी बेटी 30 साल की चंद्रा शारदा पिता के जाने का गम बर्दाश्त नहीं कर पाई और चिता में छलांग लगा दी। हालांकि उसकी बड़ी 35 वर्षीय पिंकी की तत्परता और उसे बचाने के जुनूं ने इस घटना को वहीं विराम लगा दिया। बड़ी बहन ने छोटी बहन को बचा तो लिया लेकिन 70 फीसदी जल जाने के कारण अब वो जिंदगी और मौत से जंग लड़ रही है। 

 



 
loading...




Copyright @ 2021 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.