असफलता से बनाओं सफलता का मार्ग- अश्विन सांघी

Samachar Jagat | Friday, 02 Sep 2022 07:13:22 PM
Build the path of success from failure - Ashwin Sanghi

जेईसीआरसी ने आयोजित की राजस्थान की सबसे बड़ी ओरिएंटेशन सेरेमनी

जेईसीआरसी यूनिवर्सिटी के नए सत्र के ओरिएंटेशन सेरेमनी का आयोजन जेईसीसी में हुआ  जहां 3500 नए विद्यार्थी और उनके अभिभावकों ने कार्यक्रम में हिस्सा लिया|  ओरिएंटेशन सेरेमनी में देश की प्रख्यात हस्तियां अश्विन सांघी  (प्रसिद्ध भारतीय लेखक),अनिल  स्वरुप (पूर्व कोल् सचिव, भारत सरकार ) और  योगेन्द्र सिंह यादव (परम वीर चक्र अवार्डी) ने अपने अनुभव विद्यार्थियों से साँझा किए|  

जेईसीआरसी फाउण्डेशन के चेयरमैन ओपी अग्रवाल ने नए विद्यार्थियों को प्रेरित करते हुए कहा कि सपने देखिए और उन सपनों को पूरा भी कीजिए, बस शर्त है कि इन सपनों में देश और समाज के हित की बात भी होनी चाहिए। 

ओरिएंटेशन सेरेमनी के मुख्य अतिथि अश्विन सांघी ने कहा की पैसा खुदा नहीं है, पर खुदा की कसम खुदा से कम भी नहीं है। पैसा ही सब कुछ नहीं है, सफल व्यक्ति बनने के लिए ज्ञान होना भी जरूरी है। उन्होंने यह भी कहा की कैसे इस दुनिया की बड़ी-बड़ी हस्तियां सफल होने से पहले कई बार नाकाम हुई हैं। मिथ और हिस्ट्री उनके लिए मिस्ट्री हैं जो एक इंसान आगे बढ़ने में मदद करती हैं।

सूबेदार मेजर योगेंद्र सिंह यादव जी ने अपनी कहानियों से सभी बच्चों और उनके अभिभावकों को प्रेरित करते हुए कहा की धैर्य ही है सफलता का मार्ग। सभी विद्यार्थी एक पौधा है जिन्हें उगने और आगे बढ़ने के लिए खुद को अपने अध्यापकों को समर्पित करना होगा, क्योंकि जितनी कठनाइयों से वे गुजरेंगे उतना ही वे मानसिक रूप से तैयार होंगे वहीं मुख्य अतिथि अनिल स्वरूप जी ने कहा की हम सभी गलतियाँ करते हैं और यह स्वाभाविक है। 

ओरिएंटेशन प्रोग्राम 1 सितंबर से 3 सितंबर तक चलेगा। इस दौरान इंजीनियरिंग, मानविकी, लॉ, मैनेजमेंट, होटल मैनेजमेंट और पत्रकारिता एवं जनसंचार में संचालित कोर्स के बारे में ओरिएंटेशन में जानकारी दी जाएगी।

स्कूल के बाद उच्च शिक्षा के पढ़ाई के कोर्स तो बहुत सारे है, लेकिन उनमें से बेहतर कोर्स वहीं साबित होता हैं जिसकी पढ़ाई करने के बाद बच्चों को रोज़गार प्राप्त हो सकें | आज के समय में विद्यार्थियों को सामान्य पाठ्यक्रम  के साथ साथ  कौशल  विकास के कोर्सेज की ज़रुरत हैं, और यही देखते हुए हर बार की तरह जेईसीआरसी ने कई तरह के नए कोर्स इस सत्र में शामिल किए है और यहीं कारण हैं की इस बार के सत्र 2022 - 2023 में  जेईसीआरसी में 3500 से ज़्यादा दाखिले हो चुकें हैं और जेईसीआरसी देश भर की बेस्ट अकादमिक इंस्टीट्यूशन की सूची में शामिल हो चुका हैं | जेईसीआरसी में इस बार छात्राओं के दाखिले भी 39% ज़्यादा हुए हैं जो की गर्व की बात है| 

जेईसीआरसी यूनिवर्सिटी के डायरेक्टर, स्टूडेंट अफेयर्स धीमांत अग्रवाल ने बताया की इंजीनियरिंग के कोर्सेज जो की ट्रेडिशनली सर्वाधिक डिमांड में रहते थे उनके साथ साथ प्रोफेशनल कोर्सेज की डिमांड भी इस सत्र में दिखाई दी  हैं और जेईसीआरसी विद्यार्थियों को चॉइस बेस्ड पैटर्न एवं इंटर्नशिप को करिकुलम के हिसाब से इस प्रकार जोड़ा गया है की विद्यार्थी को प्रैक्टिकल और थ्योरी दोनों की शिक्षा प्रदान करा सकें और इसी का परिणाम अच्छे प्लेसमेंट्स में दिखाई देता हैं साथ ही विद्यार्थियों का नैतिक विकास भी होता हैं | 

जेईसीआरसी के वाईस चांसलर प्रो. विक्टर गंभीर ने बताया की जेईसीआरसी यूनिवर्सिटी ने ग्लोबल इंडस्ट्री लीडर्स  जैसे कि गूगल, माइक्रोसॉफ्ट, सेल्सफोर्स, अपग्रेड, आईबीएम, एडोब, टीसीएस, टेक महिंद्रा, ईसी काउंसिल, ज़ेबिया, सेमेट्रिक्स, यूआईपाथ, डीएकसी टेक्नोलॉजी, सिस्का, सीमेंस सहित अन्य कंपनियों के साथ हाथ मिलाया है। इन मल्टीनेशनल कंपनियों के साथ मिलकर अब की बार के सत्र 2022 -2023  के लिए नए कोर्स शुरु किए हैं। ये सभी कोर्स इन्हीं मल्टीनेशनल कंपनियों की ओर से भविष्य को ध्यान में रखते हुए स्मार्ट तरीके से डिजाइन किए गए हैं इन कोर्सेज के माध्यम से  विद्यार्थियों को  विश्वस्तरीय पढ़ाई करने का मौका मिलेगा|



 

Copyright @ 2023 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.