Madhya Pradesh की मंत्री के बारे में कमलनाथ की विवादित टिप्पणी के खिलाफ मौन व्रत पर बैठे चौहान

Samachar Jagat | Monday, 19 Oct 2020 02:30:02 PM
Chauhan sitting on a silent vow against Kamal Nath's controversial remarks about Madhya Pradesh minister

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिह चौहान ने प्रदेश की मंत्री इमरती देवी को प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ द्बारा कथित तौर पर 'आइटम’ कहे जाने पर उनकी तीखी आलोचना करते हुए कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री ने अपने ओछे बयान से क ांग्रेस की विकृत और घृणित मानसिकता का फिर परिचय दिया है। चौहान ने रविवार को ट्वीट किया कि आपने (कमलनाथ ने) इमरती देवी ही नहीं, बल्कि ग्वालियर-चंबल क्षेत्र की एक-एक बेटी और बहन का अपमान किया है।

कमलनाथ की उक्त टिप्पणी के प्रति विरोध जताने एवं इस संबंध में जनजागरण के लिए भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं ने पूरे प्रदेश में सोमवार सुबह 1० बजे से धरने पर बैठकर दो घंटे का मौन व्रत शुरू किया। मुख्यमंत्री शिवराजसिह चौहान भोपाल में, पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा ग्वालियर में और पार्टी नेता ज्योतिरादित्य सिधिया इंदौर में पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ धरने पर बैठे हैं।

इमरती देवी के खिलाफ डबरा विधानसभा सीट से चुनाव लड़ रहे क ांग्रेस प्रत्याशी सुरेश राजे के लिए चुनाव प्रचार करते हुए कमलनाथ ने रविवार को कहा था, ''डबरा से सुरेश राजे जी हमारे उम्मीदवार हैं। सरल स्वभाव के, सीधे-सादे हैं। ये तो उसके जैसे नहीं हैं। क्या है उसका नाम?’’ इसी बीच वहां मौजूद जनता जोर-जोर से 'इमरती देवी’, 'इमरती देवी’ कहने लगी।

इसके बाद कमलनाथ ने हंसते हुए कहा, ''मैं क्या उसका (डबरा की भाजपा प्रत्याशी का) नाम लूं। आप तो उसको मेरे से ज्यादा पहचानते हैं। आपको तो मुझे पहले ही सावधान कर देना चाहिए था। ये क्या आइटम है?’’ इस पर चौहान ने ट्वीट किया, ''कमलनाथ जी, आज आपने अपने ओछे बयान के द्बारा क ांग्रेस की विकृत और घृणित मानसिकता का फिर परिचय दिया। आपने श्रीमती इमरती देवी ही नहीं, ग्वालियर-चंबल क्षेत्र की एक-एक बेटी और बहन का अपमान किया है। कमलनाथ जी, आपको किसी भी महिला के सम्मान के साथ खिलवाड़ करने का अधिकार किसने दिया?’’ गौरतलब है कि डबरा समेत राज्य की 28 विधानसभा सीटों पर तीन नवंबर को उपचुनाव होना है।  (एजेंसी)



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.