बलिया में निर्भया के गांव में उत्सव का माहौल

Samachar Jagat | Friday, 20 Mar 2020 12:32:17 PM
Festive atmosphere in Nirbhaya village in Ballia

बलिया,उत्तर प्रदेश के बलिया जिले में शुक्रवार को निर्भया के गांव में उत्सव का माहौल था। गांव की गलियों में बजते पटाखे व फूलझड़ियां दिवाली का ­श्य उपस्थित कर रहे थे।



loading...


फिजां में उड़ते अबीर-गुलाल ने गांव को खुशियों के रंग में रंग डाला था। निर्भया कांड के दोषियों के फांसी पर लटकने के बाद शुक्रवार को गांव के लोगों ने अनार फोड़े और एक दूसरे के चेहरे पर गुलाल लगाकर होली व दीवाली एक साथ मनायी ।

शुक्रवार को निर्भया कांड के दोषियों को फांसी दिए जाने की खबर जैसे ही गांव में पहुंची,सारा गांव निर्भया के बाबा लालजी सिह के दरवाजे पर इकTा हो गया। खुशी के आवेग से बाबा कीर जा रही थीं।चाचा सुरेश सिह की स्थिति भी कुछ ऐसे ही थी।

गांव ने होली से पहले ही यह एलान कर दिया था कि गांव उस दिन होली मनाएगा जिस दिन गांव की बेटी के साथ दरिदगी करने वाले दरिदों को फांसी दी जाएगी। होली के दिन इस गांव में न तो किसी ने रंग खेला और न ही किसी ने किसी को गुलाल ही लगाया था। लेकिन आज जैसे ही गांव में दरिदों को फांसी दिए जाने की सूचना पहुंची समूचा गांव जश्न में डूब गया। पटाखे फूटने लगे।

सबसे पहले गांव ने निर्भया के बाबा के चेहरे पर गुलाल लगाया और फिर सारा गांव रंगोत्सव में डूब गया। सभी की आंखों से खुशी के आंसू छलक-छलक जा रहे थे। खुशी का आवेग जब कुछ थमा तो बाबा लालजी सिह ने पत्रकारों से बातचीत शुरू की। उन्होंने कहा कि आज का दिन देश के बेटियों के लिए निर्भय होने का दिन है।

उन्होंने सरकार से'2० मार्च’की तिथि को निर्भया दिवस घोषित करने की मांग की। बाबा को इस बात का मलाल है कि निर्भया को लेकर सरकार ने जितने भी वादे किए थे वे सब अधूरे पड़े हैं। गांव में निर्भया की याद में अस्पताल तो बना लेकिन चिकित्सा के लिए डॉक्टर और अन्य कर्मचारियों की व्यवस्था नहीं की गयी। सड़कों व नाली से गांव को संतृप्त करने का वादा आज भी पूरा नहीं हुआ है।

निर्भया के बाबा लालजी सिह ने कहा कि निर्भया कांड के दरिदों की फांसी के बाद अब उनका संघर्ष सरकार द्बारा किए गए वादों को पूरा कराने के लिए जारी रहेगा।

loading...


 
loading...

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!




Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.