अत्याचार एवं तानाशाही के खिलाफ लड़ना है भारत की धरोहर : Congress

Samachar Jagat | Monday, 12 Oct 2020 01:16:01 PM
Indian heritage is to fight against tyranny and dictatorship: Congress

रांची। झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष डॉ रामेश्वर उरांव ने रविवार को कहा कि अत्याचार और तानाशाही के खिलाफ लड़ना भारत की अनमोल धरोहर है और समय-समय पर ऐसी ताकतें इस धरोहर की परीक्षा लेती हैं।

डॉ. उरांव आज राष्ट्र निर्माण की अपने महान विरासत कांग्रेस की श्रृंखला धरोहर की सत्रहवीं वीडियो को अपने सोशल मीडिया पर शेयर करने के बाद मीडिया कर्मियों से बातचीत में कहा कि भारत में काला धन लाने की शुरुआत ब्रिटिश हुकूमत ने की थी और वर्तमान दौर में भी ब्रिटिश हुकूमत जैसे काले कानूनों से देश जूझ रहा है। यह देश किसी भी काले कानून के सामने आज तक झुका नहीं, देशवासियों ने हमेशा लंबी और घनघोर लड़ाई लड़ी।

डॉ. उरांव ने कहा कि आजादी के दीवानों को कमजोर करने की साजिश ने ही रौलेट एक्ट को जन्म दिया, इस एक्ट का मतलब था ब्रिटिश हुकूमत बिना मुकदमा चलाए किसी भी भारतीय को जेल में बंद कर सकती थी, उच्च न्यायालय में अपील करने का अधिकार खत्म कर दिया गया।

कांग्रेस विधायक दल नेता आलमगीर आलम ने कहा कि रॉलेट एक्ट के खिलाफ राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के नेतृत्व में देशवासियों ने बड़े पैमाने पर हड़ताल का आह्वान किया था ।आज भी इस प्रकार के कानून का विरोध करने के लिए कांग्रेसजन पूरी ताकत के साथ तैयार खड़े हैं वहीं, झारखंड सरकार में कांग्रेस के मंत्री बादल पत्रलेख एवं बन्ना गुप्ता ने कहा कि इस कानून के तहत अपराधी को उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने वाले का नाम जानने का भी अधिकार नहीं था, इस कानून का पूरे देश में जमकर विरोध हुआ। (एजेंसी) 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.