चमत्कारी तनोट माता का मंदिर,पाकिस्तान ने गिराए थे  450  बम, मगर फूटा एक भी नहीं

Samachar Jagat | Thursday, 22 Sep 2022 08:07:16 PM
Miraculous Tanot Mata Temple, Pakistan had dropped 450 bombs, but not a single one exploded

जयपुर। जैसलमेर के निकट भारत- पाक सीमा पर स्थित तनोट माता का मंदिर बेहद चमत्कारी बताया जाता है। यहां तैनात बल और स्थानीय बुजुर्ग निवासियों का कहना है कि यह मंदिर 12०० साल पुराना है। इस देवालय की विश्ोषता यह है कि वहां हिन्दुओं के अलावा हर भारतीयोंं के दिल में खासा स्थान रखता है। दूर- दूर से लोग इस मैया के दर्शन करने आते हैं। मान्यता यह भी है कि मैया के दर्शन के लिए जो भी वहां आता है, उनकी फरियाद पूरी होती है। वहीं साथ ही भारत- पाकिस्तान युद्ध से जुड़ी कई अजीबो गरीब आज भी ज्वलंत है। भारतीय सेना के जवान भी श्रद्धा भाव से अपना शीश झुकाते हैं। इसके पीछे कारण यह बताया जाता है कि भारत- पाक के 1965 और 1971 के युद्ध के समय पाकिस्तानी सेना के हजारों ने रात के समय भारतीय सेना पर हमला कर दिया है। हमले में पाक ने खतरनाक टेंक ो का भी उपयोग किया था, जिनके बारे में कहा जाता था कि वे जहां भी जिस ओर जाएंगे, भारतीय सेना का सफाया हो जाएगा, मगर माता की कृपा से पाकिस्तानी आर्मी भ्रमित हो गई और वे रात के अंधकार में आपस मेंं ही भिड़ गई। भारतीय सैनिक ो ने मैया क े चमत्कार ने देश की सेना को इस आक्रमण में सुरक्षित रखा। इसी का परिणाम रहा कि मैया के इस देवालय की सेवा सम्हाल कर रहे हैं। नित्य आरती भोग और श्रंगार किया जाता है।


मैया का चमत्कार यह भी बताया जाता है कि विगत दोनों युद्धों के समय पाकिस्तानी सेना ने तनोत मैया के मंदिर को ध्वस्त करने का भरपुर प्रयास किया था। पााकिस्तानी तोपों ने मंदिर की सीमा पर 45० बम बरसाए थ्ो। साथ ही तीन हजार बमों को मंदिर परिसर में गिराया मगर चमत्कार इस बात का रहा कि इनमें से एक भी बम नहीं फूटा। सभी फुस्स हो गए।