Crime News: रेप के आरोपी महंत के खिलाफ प्रदर्शन, बुलडोजर से तोड़ा पुश्तैनी घर

Samachar Jagat | Friday, 01 Apr 2022 12:33:44 PM
Protest against rape accused Mahant, bulldozer demolishes ancestral house

रीवा : मप्र के रीवा के राज निवास में नाबालिग से सामूहिक दुष्कर्म के मुख्य दोषी महंत सीताराम की पुलिस ने सारा अहंकार मिटा दिया. पुलिस ने जैसे ही प्रभावशाली महंत को गिरफ्तार किया, उनके पुश्तैनी घर को बुलडोजर से तबाह कर दिया गया. इतना ही नहीं पुलिस ने सिविल लाइन थाने से जिला न्यायालय तक जुलूस निकाला. पुलिस सभी अपराधियों की संपत्तियों की तलाशी ले रही है ताकि इसका पता लगाया जा सके.
  
उत्तर प्रदेश के बाद अब मध्य प्रदेश में भी बुलडोजर का नजारा दिखने लगा है. राज निवास में सामूहिक दुष्कर्म की जघन्य हरकत से नाराज सीएम शिवराज सिंह चौहान का बुलडोजर महंत सीताराम के पैतृक आवास पर पहुंच गया. शिवराज के फरमान के बाद अब हरकत में आई प्रशासन ने सीताराम के गांव गुडवा में बने पक्के मकान पर बुलडोजर चला दिया.

28 मार्च को राज निवास में उसी नाबालिग से दुष्कर्म करने के बाद महंत भागकर उसी बिल्डिंग में छिप गया और सुबह सिगनरौली भाग गया था. पुलिस ने 30 मार्च को महंत को बस स्टैंड बैधान से गिरफ्तार किया था. 31 को सीताराम का जिला अस्पताल में इलाज कराया गया। सिविल लाइन पुलिस सीताराम को जेल भेजने से पहले कोर्ट ले गई। पुलिस वाहन की हालत खस्ता थी, इसलिए सीताराम को थाने से दरबार तक पैदल मार्च करने को कहा गया। महंत सीताराम चिलचिलाती धूप में टहल रहे थे। उसके चेहरे पर नकाब तो था, लेकिन उसके पैरों में न जूते थे और न ही चप्पल। मुख्य अपराधी सीताराम के साथ हिस्ट्रीशीटर विनोद पांडे भी था। पुलिस के सुरक्षा गार्ड ने दोनों अपराधियों को कोर्ट में पेश किया. यहां पहुंचकर वकीलों ने 'मुर्दाबाद' के नारे लगाए और फांसी की मांग की। महंत को पुलिस हिरासत में देखने के लिए कोर्ट में भारी भीड़ थी और लोग गंदी गालियां दे रहे थे. वकीलों को समझाने में पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी। मुख्य अपराधी की काली करतूतों का पर्दाफाश करने के लिए पुलिस ने दो दिन के कोर्ट रिमांड पर लिया है।



 
loading...

Copyright @ 2022 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.