Shivraj आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश का रोडमैप जारी करेंगे 12 नवंबर को

Samachar Jagat | Wednesday, 11 Nov 2020 10:30:02 PM
Shivraj will release roadmap for self-reliant Madhya Pradesh on November 12

भोपाल। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिह चौहान 12 नवंबर को मिटो हॉल में आयोजित कार्यक्रम में आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश का रोडमैप जारी करेंगे। आधिकारिक जानकारी के अनुसार इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री चौहान ग्रामीण पथ विक्रेताओं को 1० हजार रूपये का ब्याज मुक्त ऋण उनके खातों में अंतरित करेंगे। कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री द्बारा कुछ जिलों के हितग्राहियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिग के माध्यम से संवाद भी किया जाएगा। पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री महेन्द्र सिह सिसौदिया एवं राज्य मंत्री राम खेलावन पटेल भी कार्यक्रम से जुडेंगे।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत की रणनीति के अनुरूप मध्यप्रदेश देश का पहला ऐसा राज्य है जिसने विभिन्न विषय-विशेषज्ञों से परामर्श कर आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश का रोडमैप तैयार किया है। इस रोडमैप को प्रदेशवासियों के सामने रखा जा रहा है।

राज्य शासन द्बारा पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के तहत मुख्यमंत्री ग्रामीण पथ विक्रेता योजना प्रारंभ की गई है। इसका उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्र में पथ विक्रेता व्यवसाइयों को 1० हजार रूपये तक बैंक से कार्यशील पूंजी ऋण के रूप में उपलब्ध कराना है। योजना में राज्य शासन द्बारा प्रति हितग्राही को 1० हजार रूपये तक के ऋण पर 14 प्रतिशत तक ब्याज अनुदान की प्रतिपूर्ति की जाएगी। साथ ही योजना में राज्य शासन की क्रेडिट गारंटी रहेगी। इस योजना के पात्र हितग्राहियों को स्टाम्प ड्यूटी के प्रयोजनों से भी विमुक्त रखा गया है।

इस योजना में विभिन्न प्रकार के व्यवसायी जैसे- आइसक्रीम, फल, समोसा, कचौड़ी, ब्रेड-बिस्किट, मुर्गी-अण्डे, कपड़ा, छोटे बर्तन, जूते-चप्पल, झाडू, केश शिल्पी, हाथठेला चालक, सायकल,मोटर सायकल रिपेयरिग, बढ़ईगिरी, कुम्हार ग्रामीण शिल्पी, बुनकर, धोबी, टेलरिग, कर्मकार मंडल के तहत आने वाले व्यवसाय आदि संबंधित व्यवसायी, सेवा प्रदाता सहित अन्य इस प्रकार के कार्य करने वाले पथ विक्रेता (स्ट्रीट वेंडर) व्यवसायी सम्मिलित किये गये हैं।

योजना में 18 से 55 वर्ष आयु वर्ग के ग्रामीण प्रवासी श्रमिक, गरीब वर्ग के परिवार, ग्रामीण क्षेत्र के व्यवसायी, जिनके परिवार की महिलायें आजीविका मिशन या तेजस्विनी परियोजना में गठित स्व-सहायता समूह की सदस्य लाभांवित हो सकते हैं। शैक्षणिक योग्यता, जाति एवं वर्ग का कोई बंधन नहीं है। योजना को सरल बनाने के लिये कामगार सेतु पोर्टल बनाया गया है। (एजेंसी)



 
loading...




Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.