छात्र के मौत प्रकरण में जांच के बाद ही बयान दि‍या जाना चाह‍िए : BJP MLA

Samachar Jagat | Tuesday, 16 Aug 2022 03:13:05 PM
Statement should be given only after investigation in student's death case: BJP MLA

जयपुर |  राजस्थान के जालोर में दलित छात्र की कथित पिटाई से हुयी मौत के मामले में भारतीय जनता पार्टी के विधायक जोगेश्वर गर्ग ने कहा है कि घटना का कारण तो जांच के बाद सामने आएगा। इसके साथ ही उन्‍होंने कहा कि इस बात को लेकर संशय है क‍ि छात्र को केवल मेघवाल जाति‍ का होने एवं पानी का घड़ा छूने के कारण पीटा गया था। उल्‍लेखनीय है कि जालोर के एक न‍िजी स्‍कूल के अध्‍यापक ने नौ वर्षीय दल‍ित छात्र को कथित तौर पर पानी का घड़ा छूने के ल‍िए बेरहमी से पीटा। छात्र की बाद में शनिवार को इलाज के दौरान मौत हो गई।

जालोर के विधायक गर्ग ने कहा कि मामले में पुलिस, प्रशासन और शिक्षा विभाग अलग-अलग जांच कर रहे है। गर्ग ने कहा, ’’मैंने ग्रामीणों और अन्य लोगों से बात की है, और उनके अनुसार, इसमें संदेह है कि यह घटना इसलिए हुई क्योंकि लड़का मेघवाल था और उसने घड़े को छुआ था।’’साथ ही उन्‍होंने कहा,'' इसमें कोई शक नहीं कि शिक्षक ने लड़के को पीटा और उसकी मौत हो गई। आरोपी शिक्षक को गिरफ्तार कर लिया गया है। पूछताछ व जांच की जा रही है। क्या मेघवाल होने और पानी के घड़े को छूने पर उसे पीटा गया था, यह जांच में ही स्पष्ट हो जाएगा और निष्कर्षों के बाद ही बयान दिया जाना चाहिए।''

उल्‍लेखनीय है कि नौ वर्षीय दलित छात्र इंद्र कुमार को 20 जुलाई को स्कूल में कथित रूप से मटके को छूने के आरोप में एक शिक्षक ने पीटा था। उसकी शनिवार को अहमदाबाद के एक अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हो गई थी।आरोपी शिक्षक छैल सिह (40) को गिरफ्तार कर लिया गया है और राज्य सरकार ने पीड़ित परिवार के सदस्यों के लिये पांच लाख रुपये की राहत की घोषणा की है।



 

Copyright @ 2022 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.