योगी राज में बदल रही है राम नगरी की सूरत

Samachar Jagat | Wednesday, 18 Mar 2020 10:08:07 AM
The appearance of Ram city is changing in Yogi Raj

अयोध्या,  उत्तर प्रदेश में धार्मिक पर्यटन को लेकरयोगी सरकार के अब तक के तीन साल के कार्यकाल में राम की नगरी अयोध्या को विश्व पर्यटन मानचित्र में अहम स्थान दिलाने की दिशा में उल्लेखनीय प्रगति हुयी है।



loading...

दशकों से लंबित रामजन्मभूमि विवाद का ऐतिहासिक फैसला पिछले साल आने के बाद भव्य राममंदिर के निर्माण की प्रक्रिया परवान चढ चुकी है वहीं सरयू तट पर हर साल दीपोत्सव के भव्य आयोजन ने पूरी दुनिया का ध्यान पौराणिक नगर की ओर आकर्षित किया।

योगी सरकार ने फैजाबाद जिले का नाम बदल कर उसे सदियों पुराना नाम अयोध्या दिया। रामायण सर्किट की थीम पर राम की नगरी के गली नुक्कड़ से लेकर चौराहों तक को चमकाने की कवायद जारी है। भगवान राम की 251 फिट ऊंची प्रतिमा के लिये जमीन चिन्हित की जा चुकी है। यहां जारी निर्माण कार्यो की तेजी को देखकर लगता है कि अगले एक साल में धार्मिक नगरी नये रूप  में नजर आयेगी।

वर्ष 2०17 में मुख्यमंत्री का पद संभालने के बाद श्री योगी आदित्यनाथ ने सरयू तट के राम की पैड़ी पर एक लाख अस्सी हजार दीप जलाकर दीपोत्सव का कार्यक्रम सम्पन्न कराया था जबकि 2०18 में तीन लाख 85 हजार दीप जलाये गये थे। पिछले साल सरयू तट पर चार लाख तथा एक लाख 51 हजार विभिन्न धार्मिक स्थलों पर दीप जला कर दीपोत्सव मनाया गया था।

रामायण सर्किट थीम के अन्तर्गत रामकथा गैलरी, दिगम्बर अखाड़ा में बहुउद्देश्यीय हॉल का निर्माण, अयोध्या बाईपास के निकट मल्टी लेवल कार पार्किंग, पंचकोसी परिक्रमा मार्ग पर यात्रियों के ठहरने का प्रबंध, राम की पैड़ी, बस डिपो स्टैंड का निर्माण, अयोध्या के मुख्य मार्ग एवं फुटपाथ के नवीनीकरण का निर्माण, हनुमानगढèी, कनक भवन, पैदल यात्री मार्ग के नवीनीकरण का निर्माण, रामकथा पार्क का विस्तारीकरण का कार्य प्रगति पर है।

स्टेज पर ग्रेनाइट पत्थर की फ्लोरिग, सामुदायिक शौचालय के निर्माण का कार्य, यात्री विश्राम गृह, दशरथ भवन के पास, सत्संग भवन, यात्री सहायता केन्द्र, परिक्रमा मार्ग पर गेट का निर्माण, रैन बसेरा स्ट्रक्चर जैसे विभिन्न कार्यों पर सरकार कई करोड़ों का प्रोजेक्ट बना करके काम करा रही है हालांकि धरातल में अभी यह काम लोगों को नजर नहीं आ रहा है।

loading...


 
loading...

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!




Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.