Hathras की बेटी के दोषियों को जल्द फांसी दी जाए : Kejriwal

Samachar Jagat | Saturday, 03 Oct 2020 10:16:02 AM
Those guilty of Hathras's daughter should be hanged soon: Kejriwal

नयी दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविद केजरीवाल ने शुक्रवार को कहा कि हाथरस की बेटी के दोषियों को जल्द से जल्द फांसी की सजा दी जाए, ताकि भविष्य में कोई इस तरह की हिम्मत न कर सके।श्री केजरीवाल यहां जंतर- मंतर पर हाथरस की पीड़िता को न्याय दिलाने के लिए हो रहे प्रदर्शन में शुक्रवार शाम शामिल हुए और कहा कि हाथरस की बेटी को ठीक से इलाज नहीं मिला, इसलिए उसकी जान चली गई।

दुष्कर्म के बाद कई दिनों तक उसकी प्राथमिकी दर्ज नहीं हुई और फिर रात को उसके शव को जला दिया गया। आरोपियों को बचाने की कोशिश हुई। यह ठीक नहीं है। पूरे देश की बेटियां हमारी बेटी हैं। कहीं भी किसी के साथ दुष्कर्म नहीं होना चाहिए और इस पर राजनीति नहीं होनी चाहिए। सभी सरकारों, सभी पार्टियों और पूरे देश को मिल कर ऐसी व्यवस्था करनी पड़ेगी कि बहू बेटियां सुरक्षित हो सकें। उन्होंने कहा कि हाथरस की बेटी के दोषियों को जल्द से जल्द फांसी की सजा दी जाए, ताकि भविष्य में कोई इस तरह की हिम्मत न कर सके। पीड़ित परिवार को खुला छोड़ दिया जाए, वह जिससे मिलना चाहें, उससे मिले, ऐसे समय में परिवार सहानुभूति चाहता है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वह इस दुख की घड़ी में हमलोग यहां इकTे हुए हैं। मैं यहां भाषण देने के लिए नहीं आया हूं। हम प्रार्थना करते हैं कि भगवान हमारी बेटी की आत्मा को शांति दें और उसे अपने चरणों में जगह दे। हमारी और पूरे देश की उत्तर प्रदेश सरकार से विनती है कि जो दोषी हैं, उन लोगों को सख्त से सख्त सजा दी जाए, उनको जल्दी से जल्दी फांसी दिलवाई जाए। दोषियों को इतनी कठोर सजा मिलनी चाहिए कि भविष्य में कोई इस तरह की हिम्मत न कर सके। जो पूरा घटनाक्रम हुआ, कुछ लोगों को लगता है कि दोषियों को जैसे बचाने की कोशिश की जा रही है, जैसे पूरे प्रकरण को ढंकने की कोशिश की जा रही है, यह नहीं होना चाहिए, यह गलत है। जो हुआ, वह बहुत ही पीड़ादाई है, जो घटनाक्रम हुआ, आरोपियों ने बहुत ही कठोरता और क्रूरत के साथ उस बच्ची के साथ बर्ताव किया। अब तो यह भी कहा जा रहा है कि दुष्कर्म तो हुआ ही नहीं था। कई सारी ऐसी घटना हैं, जिसकी वजह से लोगों के मन में यह आ रहा है कि इसको ढंकने की कोशिश की जा रही है और दोषियों को बचाने की कोशिश की जा रही है। यह नहीं होना चाहिए।

दोषियों को सख्त सजा मिले। हमारी विनती है कि जिस परिवार ने यह सब भुगता है, उस परिवार की बच्ची गई है। उस परिवार को इस समय सहानुभूति चाहिए। उस परिवार को पूरे देश का समाज का और सरकार सहारा चाहिए। मीडिया में जो चल रहा है, जिस तरह का व्यवहार परिवार के साथ हो रहा है, वह सही नहीं हो रहा है। उस परिवार को खुला छोड़ दिया जाए, वह जिससे मिलना चाहें, जो भी उनसे मिलना चाहे। इस पूरे मामले पर राजनीति नहीं होनी चाहिए। जो भी इस मामले में राजनीति करें, वह गलत बात है। कोई कहता है कि उत्तर प्रदेश में दुष्कर्म हो रहा है तो दूसरा कहता है कि राजस्थान में भी तो गया। यह तो कोई तर्क नहीं है, यह तो गलत है। उत्तर प्रदेश में भी क्यों हो और राजस्थान में भी क्यों हो, मध्यप्रदेश में भी क्यों हो, मुंबई में भी क्यों हो और दिल्ली में भी क्यों हो? कहीं किसी का दुष्कर्म नहीं होना चाहिए। हम सब को मिल कर, सभी सरकारों और सभी पार्टियों को मिल कर, सारे देश को मिल कर ऐसी व्यवस्था करनी पड़ेगी कि बहू बेटियां सुरक्षित हो सकें।

वहीं आम आदमी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्बाज ने कहा कि इस घटना के सभी आरोपी ठाकुर जाति के हैं और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी ठाकुर हैं, इसलिए योगी आदित्यनाथ और उनकी पुलिस आरोपियों को बचा रहे हैं। योगी आदित्यनाथ को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे देना चाहिए। (एजेंसी)



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.