Travel: राजस्थान के किलो में अपनी अलग पहचान रखता है भरतपुर का लोहागढ़, एक बार जरूर देखें 

Samachar Jagat | Friday, 09 Apr 2021 03:52:22 PM
Travel: Lohagad of Bharatpur has its own identity in the kilo of Rajasthan

इंटरनेट डेस्क। राजस्थान में कई दुर्ग बने हुए हैं, लेकिन इनमें भरतपुर में स्थित लोहागढ़ का किला अपनी विशेष पहचान रखता है। यह राजस्थान के सबसे मजबूत किलों में से एक है। इसकी मजबूती के कारण इसका नाम मजबूत धातु लोहे के नाम पर रखा गया है। बताया जाता है कि भरतपुर के इस किले पर कई बार आक्रमण हुए हैं, लेकिन लोहागढ़ किला आज भी शान से खड़ा हुआ है। 

राजस्थान के भरतपुर जिले में स्थिति इस किले की दीवार को तोडऩे की शक्ति न तो मुगलों और न ही अंग्रेजों के पास थी। यह किला पर्यटकों के लिए विशेष रूप से आकर्षण का केन्द्र है। साल 1730 में महाराजा सूरज मल बनवाए गए इस किले में एक संग्रहालय भी है। इस किले की वास्तुकला देखते ही बनती है।

यह किला मिट्टी से बनी मोटी बाहरी दीवारों के कारण भी लोकप्रिय है। जो लगभग सात किमी लम्बी है। अगर आप कही घूमने की योजना बना रहे हैं तो ये किला आपके लिए बेहतर विकल्प होगा। अभी यहां पर घूमने का बहुत ही अच्छा समय है। इसमें सुबह 9.00 बजे से शाम 5.30 बजे तक घूमा जा सकता है। 
 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2021 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.