कर्नाटक में डॉक्टर सहित दो गिरफ्तार

Samachar Jagat | Monday, 27 Jul 2020 04:00:02 PM
Two arrested including doctor in Karnataka

उडुपी। कर्नाटक के उडुपी पुलिस ने बैंक से ऋण लेने के लिए फर्जी दस्तावेज जमा करने पर एक डॉक्टर सहित दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है।


पुलिस ने सोमवार को बताया कि गिरफ्तार आरोपियों में सलमारा निवासी डॉ. रिनीता डिसूजा (37) और चित्रापदी निवासी विजय कोटारी (42) हैं।
रिनीता ने बैंक ऑफ बड़ौदा मूदाबे शाखा में बताया कि वह वह कस्तूरबा अस्पताल और मणिपाल अकादमी ऑफ हायर एजुकेशन (एमएएचई) में डॉक्टर एवं प्रोफेसर के रूप में सेवा कर रही है। उसकी प्रतिमाह 2,66,००० रुपये आय है। उसे कार खरीदने के लिए सात लाख 8० हजार रुपए को ऋण मांगा था। इसके अलावा उसने अपने भाई आकाश डिसूजा के लिए लिए भी 16 लाख रुपए का लोन का आवेदन दिया था।


डॉ. रिनीता ने कार को खरीदने के लिए वाहन की कीमत की सूची के साथ अपनी 15 मई, 2०19 से दो जुलाई 2०2० की पे-स्लिप, 2०17-18 और 2०18-19 की आयकर रिटर्न की प्रति जमा की थी।
बैंक प्रबंधक ने जमा किए गए दस्तावेजों का सत्यापन करते समय आरोपी की पे-स्लिप और अन्य दस्तावेजों को फर्जी पाया और थाने में शिकायत दर्ज करायी है।


पुलिस ने इस मामले में रिनीता को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में बताया कि विजय कोटारी ने फर्जी दस्तावेज बनाने में उसकी मदद की थी। उसकी इस सूचना के आधार पर पुलिस ने विजय कोटारी को गिरफ्तार किया और उसके पास से फर्जी दस्तावेज बनाने के लिए उपयोग में लाए गए लैपटॉप को भी जब्त कर लिया है। (एजेंसी)



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.