संसद से पारित कानून का विरोध करना असंवैधानिक:कलराज

Samachar Jagat | Monday, 10 Feb 2020 09:20:23 AM
Unconstitutional to oppose legislation passed by Parliament: Kalraj

जौनपुर। राजस्थान के राज्यपाल कालराज मिश्र ने कहा कि संविधान की धज्जियां उड़ाने वाले लोग ही बोल हैं कि संविधान की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं ,ऐसा कहने वालों मे दुर्भाग्य से बुद्धिजीवी भी शामिल हैं। मिश्र रविवार देेेर शाम यहां अपने बड़े भाई की पौत्रवधू को आशीर्वाद देने मडियाहू के रामाज्ञा इंटर कॉलेज में आयोजित आशीर्वाद एवं प्रीतिभोज समारोह में शामिल होने पहुंचे थे। इस मौके पर उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि सही बात को गलत बात बता कर संविधान बचाने के नाम पर भहसा और पथराव कर देश को गुमराह किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि संविधान मेंं बताये गए कर्तव्यों को जानना जरूरी है , इसकी जानकारी नहीं होने से ही लोग राष्ट्र विरोधी तथा कानून को बाधित करने का काम कर रहे हैं । वे संसद से पारित कानून को भी नहीं मान रहे हैं । ऐसे कार्यो से देश कमजोर होता है ,जो यह ठीक नहीं है। उन्होंने कहा कि अब तक अधिकार की बातें बहुत हुई हैं ,अब जरूरत है कि लोगों को उनका संवैधानिक कर्तव्य बताया जाए। कर्तव्य का बोध कराने से राष्ट्र प्रेम जागेगा , राष्ट्र भक्ति बढ़ेगी और लोग राष्ट्र विरोधी काम करने से पहले सोचेंगे।

 उन्होंने कहा कि संविधान जानने वाला संवैधानिक कामकाज में बाधा या किसी धर्म मे विभेद नहीं पैदा करता है। राज्यपाल ने कहा कि कर्तव्य के प्रति जागरूकता पैदा करने के लिए मैंने राजस्थान में अभियान शुरू किया है और इसके तहत वह विभिन्न कार्यक्रमों के दौरान लोगों को संविधान में उल्लिखित कर्तव्यों का पाठ पढ़ाते हैं । उन्होंने कहा कि संसद द्वारा बनाए गए कानून का पालन करना सभी राज्यों का दायित्व है। उन्होंने कहा कि मौलिक अधिकार और कर्तव्य का सामंजस्य बनाकर सभी लोग पालन करें तभी संविधान की रक्षा होगी।

 राजनीतिक सवाल पर चर्चा से इंकार करते हुए उन्होंने कहा कि संसद से पारित कानून का विरोध करना गलत और असंवैधानिक है। समारोह में प्रदेश के आवास राज्य मंत्री गिरीश चन्द यादव, जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह, पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार ,राज्यपाल के भतीजे ब्रह्मदेव मिश्र सहित जिले भर के गणमान्य लोग उपस्थित रहे। -(एजेंसी)



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.