दीवाली पर कम से कम पटाखों का इस्तेमाल करें: Rawat

Samachar Jagat | Thursday, 12 Nov 2020 10:46:02 AM
Use least firecrackers on Diwali: Rawat

देहरादून। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिह रावत ने बुधवार को जनता से दीवाली पर कम से कम पटाखों का इस्तेमाल करने का आग्रह किया ।

यहां एक कार्यक्रम में संवाददाताओं द्बारा राष्ट्रीय हरित अधिकरण के 'ग्रीन दीवाली’ संबंधी आदेश के बारे में पूछे जाने पर मुख्यमंत्री रावत ने कहा, ''मैं प्रदेशवासियों से कहना चाहता हूं कि पटाखों का कम से कम इस्तेमाल करें । इससे पर्यावरण भी सुरक्षित रहेगा और हमारा स्वास्थ्य भी अच्छा रहेगा ।’’

मुख्यमंत्री ने बुधवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन के साथ आठ राज्यों के स्वास्थ्य मंत्रियों की कोविड-19 को लेकर हुई बैठक का जिक्र करते हुए कहा कि सर्दी बढ़ने तथा दिल्ली में महामारी के फिर तेजी से बढ़ने के मद्देनजर सबको अलर्ट किया गया है ।
रावत ने बताया कि बैठक में उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में कोविड का प्रसार दिल्ली पर निर्भर करता है क्योंकि उत्तराखंड के बहुत से लोग दिल्ली में रहते हैं और त्योहार मनाने के लिए वे घरों की ओर आ रहे हैं ।

उन्होंने कहा, ''मैंने उन्हें बताया कि यदि दिल्ली में स्थिति नियंत्रण में रहेगी तो उत्तराखंड में भी काफी हद तक नियंत्रण रहेगा ।’’
हालांकि, उन्होंने कहा कि महामारी से निपटने के लिए उनकी सरकार हर प्रकार से तैयार है तथा जागरूकता कार्यक्रम भी और तेजी से चलाए जाएंगे ।

ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैंण के लिए आने वाले 1० वर्षों में 25 हजार करोड़ रुपये खर्च किए जाने संबंधी घोषणा की बाबत मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्रीष्मकालीन राजधानी में समानांतर व्यवस्थाएं करनी होंगी और इसकी योजना के लिए वहां एक समिति का गठन कर दिया गया है ।

उन्होंने कहा कि एक अनुमान के तहत वहां सरकार और निजी निवेशकों द्बारा 25 हजार करोड़ रुपये का निवेश होगा तथा अवस्थापना सुविधाएं, स्वास्थ्य, शिक्षा, पानी, बिजली, सड़कें, सीवेज, खेल के मैदान, मनोरंजन आदि सभी व्यवस्थाएं होंगी । इसके लिए पर्याप्त भूमि की व्यवस्था करने का पहला प्रयास होगा । (एजेंसी)



 
loading...




Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.