विश्व शांति मिशन ने पूरे लॉकडाउन में की एक लाख से अधिक लोगों की सहायता

Samachar Jagat | Saturday, 13 Jun 2020 02:59:19 PM
World Peace Mission assisted more than one lakh people in the entire lockdown

पं देवकीनंदन महाराज के निर्देशन में जारी रहे सेवा कार्य

कोरोना वायरस के कारण घोषित लॉकडाउन में विभिन्न संगठनों ने अपनी ओर से जरूरतमंद लोगों को सहायता पहुंचाई। इन्हीं में एक विश्व शांति मिशन ने भी इस अवधि में एक लाख से अधिक जरूरतमंद लोगों को अपनी ओर से सहायता प्रदान की। हाल ही में लॉकडाउन के बीच विश्व शांति सेवा चैरिटेबल ट्रस्ट द्वारा जरूरतमंद परिवारों एवं व्यक्तियों को दी जा रही राहत सेवा का समापन किया गया। इसके आखिरी दिन विश्व शांति मिशन के पदाधिकारियों द्वारा ब्रज के दर्जनों जरूरमंद लोक कलाकारों को राशन सामग्री प्रदान की गई। 

संस्था द्वारा सम्पूर्ण लॉकडाउन में एक लाख से अधिक जरूरतमंद लोगों को भोजन, राशन, मास्क, सैनिटाईजर आदि के रूप राहत सहायता प्रदान की गई। मंगलवार को विश्व शांति सेवा चैरीटेबल ट्रस्ट के तत्वावधान में कोरोना राहत सेवा के अन्तर्गत कृष्णानगर स्थित पार्क में लॉकडाउन से प्रभावित लोक कलाकारों को आटा, दाल, चावल, मिर्च मसाले आदि का राशन किट वितरित की गई।

संस्था सचिव विजय शर्मा ने इस मौके पर तीन दर्जन से ज्यादा कलाकारों को राहत सामग्री प्रदान की गई। इस अवसर पर डॉ. दीपक गौस्वामी, लोक कलाकार खेमचन्द यदुवंशी, वार्ड पार्षद मोनू अरोड़ा, अतुल उपाध्याय एवं अन्य गणमान्य लोग मौजूद थे।

विजय शर्मा ने बताया कि संस्था अध्यक्ष पं देवकीनंदन ठाकुर जी महाराज के निर्देश पर कोरोना वायरस के कारण घोषित लॉकडाउन की अवधि में राहत सामग्री बांटी गई। उन्होंने बताया कि महाराज जी के आव्हान पर देशभर में विभिन्न स्थानों पर संचालित संस्था सेवा समिति सदस्यों ने भी जरूरतमंद एवं निर्धन परिवारों की सेवा में बढ़-चढक़र अपनी ओर से योगदान दिया। 

एक लाख से ज्यादा लोगों तक पहुंचाई सेवा राहत सामग्री:

विजय शर्मा ने बताया कि पूरी लॉकडाउन अवधि में संस्था एवं समिति सदस्यों ने एक लाख से अधिक लोगों को राहत सेवा प्रदान की। इस दौरान संस्था की ओर से ब्रज के अतिरिक्त अन्य स्थानों पर भी सेवा कार्य किए गए। इसमें मथुरा-वृन्दावन में संस्था द्वारा औसतन चार सदस्यों वाले 11300 परिवारों को कच्चे भोजन सामग्री की राशन किट वितरितकी गई। 

उन्होंने बताया कि संस्था की अन्य प्रदेशों में कार्यरत सेवा समितियों ने भी ऐसे 5000 से अधिक परिवारों को सूखा राशन बांटा गया। इसके साथ ही संस्था समितियों द्वारा विभिन्न स्थानों पर लगभग 22000 लोगों को पका हुआ भोजन एवं 20 हजार से अधिक लोगों को मास्क और सैनिटाईजर बांटे। विजय शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि संस्था की ओर से पूरी राहत सेवा हेतु किसी भी प्रकार का दान नहीं लिया गया है। संस्था अध्यक्ष देवकीनंदन ठाकुरजी महाराज ने सदस्य, शिष्यों सेे अपने आस-पास के जरूरतमंद लोगों की सहायता करने का संदेश दिया था। 

पीएम केयर्स में 50 लाख का सहयोग:

मीडिया प्रभारी जगदीश वर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि संस्था की ओर से  कोरोना राहत हेतु 11 लाख रुपए पीएम केयर्स में जमा करवाए गए। पं देवकीनंदन ठाकुर जी महाराज ने देशभर में फैले अपने शिष्यों से भी इस आपदा में देश एवं प्रदेश सरकार को सीधे सहायता भेजकर योगदान देने को कहा था। 

इसी के तहत बैंगलौर निवासी उनके शिष्य मुकेश शर्मा ने हरियाणा एवं कर्नाटक सरकार के राहत कोष में 22 लाख रुपए की एकमुश्त राशि जमा कराई थी। इसके अतिरिक्त अन्य स्थानों के पं देवकीनंदन महाराज के शिष्यों ने अलग-अलग सहयोग राशि सीधे पीएम केयर्स में जमा करवाकर इस सेवा कार्य में शामिल हुए। 

कोरोना वायरस के कारण लॉकडाउन की अवधि में विश्व शांति मिशन के सेवा राहत  में संस्था के सदस्यों ने वास्तविक जरूरतमंद परिवारों का चयन कर उन्हें प्राथमिकता से सूखा राशन पहुंचाने में योगदान दिया है। संस्था प्रबंधक गजेन्द्र सिंह ने इस संबंध में बताया कि कार्यकर्ताओं ने लॉकडाउन की अवधि में सडक़ किनारे रह रहे निराश्रित परिवारों एवं बस्तियों में निर्धन परिवारों को उनके पास जाकर राशन बांटा। इस दौरान विकलांग एवं अशक्तजनों को विशेष रूप से सहायता प्रादान की। 

सहायता के लिए विश्व शांति सेवा मिशन संस्था के पास मथुरा-वृन्दावन में कार्यरत विभिन्न सामाजिक कार्यकर्ताओं, निगम पाषर्द, मीडिया कर्मियों एवं राजनीतिक प्रतिनिधियों के माध्यम से भी जरूरतमंद लोगों की सूची उपलब्ध करवाई गई। इन सूची के आधार पर ही उनकी उपस्थिति में समयानुसार राहत सामग्री लोगों में वितरित की गई।  

पं देवकीनदंन महाराज ने लॉकडाउन नियमों को लेकर किया लोगों को जागरूक: 

लॉकडाउन अवधि के दौरान पं देवकीनदंन महाराज ने सोशल मीडिया के जरिए लोगों को सरकार द्वारा जारी सुरक्षा नियमों का पालन करने के प्रति जागरूरक किया। इसके अलावा संस्था कार्यकर्ताओं ने भी लोगों में राशन वितरण से पूर्व मास्क पहनाकर एवं सेनेटाईजर से हाथ धुलवाकर सोशल डिस्टैंसिंग एवं सफाई के प्रति लोगों को संदेश दिया।  

महाराज जी ने किया सफाई एवं पुलिस कर्मियों का सम्मान:  

कोरोना वायरस के कारण घोषित लॉकडाउन की अवधि में संस्था की ओर से वृन्दावन में पांच दर्जन से अधिक सफाई कमिर्यों को राशन सामग्री एवं सैनिटाइजर का वितरित किया गया। पं देवकीनंदन महाराज ने इस मौके पर सफाई एवं पुलिस कर्मियों का सम्मान करने खुद पहुंचे।

पं देवकीनंदन महाराज ने इस मौके पर सफाई कमिर्यों पर पुष्पवर्षा कर उनका मनोबल बढ़ाया। वहीं उन्होंने पुलिस कर्मियों का कोरोना वायरस के मुश्किल समय में अनवरत सेवा करने के लिए भी आभार जताया। इस मौके पर संस्था की ओर से  मथुरा में कार्यरत डेढ़ सौ से अधिक  मीडियाकर्मिर्यों को मास्क, सैनिटाईजर, ग्लब्स आदि की सुरक्षा किट प्रदान कर उनका अभिनंदन किया गया।

इन्होंने संभाली राहत सामग्री विवरण की जिम्मेदारी: 

लॉकडाउन अवधि में संस्था की ओर से राहत सामग्री वितरण में मथुरा-वृन्दावन में एक दर्जन से अधिक प्रमुख कार्यकर्ताओं ने कोरोना संक्रमण के माहौल में भी निरन्तर अपनी सेवा प्रदान की। इस दौरान वृन्दावन स्थित शांति सेवा धाम में राहत सामग्री किट तैयार किए गए। यहीं से राहत सामग्री किट को मथुरा-वृन्दावन के विभिन्न स्थानों तक वितरण हेतु पहुंचाया गया। 

प्रमुख कार्यकर्ता विष्णु शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि शुरू में रोजाना मिलते कोरोना संक्रमित मरीजों की खबरें डराने वाली थीं, लेकिन बाद में राहत सेवा कार्य  में आनंद आने लगा तो यह सब सामान्य लगने लगा। प्रमुख कार्यकर्ता विष्णु शर्मा ने कहा कि संस्था सचिव विजय शर्मा के नेतृत्व में इस दौरान सुरक्षा प्रबन्धों का विशेष ध्यान रखा गया। इस दौरान पं देवकीनंदन महाराज भी ने भी खुद आकर व्यवस्थाओं को परखा और तारीफ कर हमारा हौंसला बढ़ाया। 

संस्था की ओर से लॉकडाउन में राहत सेवा के दौरान कार्यकर्ताओं में प्रमुख रूप से कमल शर्मा, विष्णु दत्त, राहित, अमित शर्मा, नीरज भारती, दिनेश शर्मा, धमेन्द्र सिंह, अंकित, शिवम, रामजीवन, भूदेव शर्मा, राहुल मिश्रा, संजय, परसोती शर्मा, गौरी, अरविन्द आदि ने अपनी ओर से महत्वपूर्ण योगदान दिया।



 
loading...
loading...


Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.