दीपा मांझी की कंगना को चुनौती

Samachar Jagat | Saturday, 13 Nov 2021 01:16:00 PM
Deepa Manjhi's dare to Kangana challenge

पटना: फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत अपने स्वतंत्रता संबंधी बयान को लेकर विवादों में घिर गई हैं. विपक्ष लगातार उन पर हमले कर रहा है और मांग है कि राष्ट्रपति उन्हें दिया गया पद्मश्री सम्मान वापस ले लें. इस बीच बिहार के पूर्व सीएम जीतन राम मांझी की बहू दीपा मांझी ने कंगना रनौत पर निशाना साधा है. दीपा मांझी ने स्थानीय भाषा में ट्वीट किया कि 'यह कंगना रनौत नहीं जानती कि हम उसे बिहारी गोबर डालने लायक भी नहीं समझते। जब उन्हें पद्म पुरस्कार मिला, तो उन्होंने शहीदों का अपमान करना शुरू कर दिया।'

 

ई कंगना रनौत के पता नहीं है कि एकरा जईसन कलमुही के हमनी बिहारी गोबर पाथे लायक़ नहीं बुझते हैं।
पद्म सम्मान मिल गया तो शहीदों को ही अपमानित करने लगी।
अरे हो देशद्रोही कंगना,औक़ात है तो ई भाषा बिहार में बोलकर दिखाव,मुंह कीचड़ में ना डुबा दिया तो कहना।
लतखोर!
“शुर्पणखा की बहन कंगना” — Deepa Santosh Manjhi (@dipamanjhi) November 12, 2021


 

 

दीपा ने कंगना को देशद्रोही बताते हुए उन्हें चुनौती देते हुए कहा कि अगर उन्होंने बिहार में बयान दिया होता तो उनका मुंह कीचड़ में डूब जाता। वहीं, अपने ट्वीट में दीपा ने कंगना रनौत को ''आदी'' और ''शूर्पणखा की बहन'' बताया. गौरतलब है कि दीपा मांझी इससे पहले लालू की बेटी रोहिणी आचार्य को लाबरी कह चुकी हैं. दूसरी ओर, महाराष्ट्र के कैबिनेट मंत्री नवाब मलिक ने शुक्रवार को बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत के स्वतंत्रता बयान को लेकर उन पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि कंगना रनौत ने यह कहकर हजारों स्वतंत्रता सेनानियों का तिरस्कार किया है कि वह 2014 में आजाद हुई थीं।

नवाब मलिक ने कहा कि हम कंगना के बयान की कड़ी निंदा करते हैं। केंद्र सरकार को कंगना से पद्म श्री पुरस्कार वापस लेना चाहिए और उन्हें गिरफ्तार किया जाना चाहिए। ऐसा लगता है कि कंगना रनौत ने ऐसा बयान देने से पहले मलाणा क्रीम (हिमाचल में उगने वाली एक विशेष प्रकार की दवा हशीश) का ओवरडोज़ लिया है।



 
loading...

Copyright @ 2021 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.