गिनी में विवादास्पद संविधान जनमत संग्रह 22 मार्च को

Samachar Jagat | Saturday, 14 Mar 2020 11:59:09 AM
Controversial constitution referendum in Guinea on 22 March

कोनाक्री। गिनी के राष्ट्रपति अल्फा कोंडे ने संविधान में अपने प्रस्तावित सुधार को लेकर जनमत संग्रह के लिए 22 मार्च की तारीख तय की है, जिसको लेकर विपक्षियों को चिता सता रही थी कि ऐसा करके राष्ट्रपति कार्यकाल सीमा को नजरअंदाज करके सत्ता में बने रह सकेंगे। 

राष्ट्रपति के एक निर्णय में शुक्रवार को कहा गया कि एक मार्च को होने वाले मतदान की निष्पक्षता को लेकर स्थानीय और अंतरराष्ट्रीय चिताओं के चलते देरी हुई, अब विधानसभा चुनाव के साथ ही मतदान होगा।

देश में कोरोनो वायरस के पहले मामले की पुष्टि होने के बाद रैलियों के स्थान पर लगे कुछ प्रतिबंधों के बावजूद अभियान 2० मार्च तक चलेगा।

पश्चिमी अफ्रीकी देश में संविधान में बदलाव के प्रस्ताव के विरोध में विशाल रैलियां देखी गईं थीं। इसके मद्देनजर कई लोगों को डर है कि कोंडे (82) को तीसरे कार्यकाल के लिए भी अनुमित मिल जाएगी।
अक्तूबर से देशभर में शुरू हुए विरोध के बाद से 31 प्रदर्शनकारियों और एक पुलिसकर्मी की मौत हो चुकी है। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.