Sri Lanka में डॉक्टरों और दवाईयों की कमी से खाली पड़े हैं अस्पताल

Samachar Jagat | Tuesday, 26 Jul 2022 01:43:35 PM
Hospitals are lying vacant in Sri Lanka due to lack of doctors and medicines

कोलम्बो  | श्रीलंका का राष्ट्रीय अस्पताल देश का सबसे बड़ा अस्पताल है। देश में राजनीतिक और आर्थिक संकट से स्वास्थ्य सेवाएं प्रभावित रही है और अस्पताल मरीज़ों और डॉक्टरों के न होने से खाली पड़े हैं। एक रिपोर्ट में मंगलवार को यह जानकारी सामने आयी है। देश में अभूतपूर्व आर्थिक संकट ने स्वतंत्र और सार्वभौमिक स्वास्थ्य प्रणाली को भी नहीं बख्शा और इससे बड़ा झटका दिया है, जो कुछ महीने पहले श्रीलंका की दक्षिण एशियाई पड़ोसियों के तुलना में स्वास्थ्य क्षेत्र में अच्छी स्थिति मानी जाती थी।

मौजूदा समय में देश में विभिन्न वस्तुओं की कमी चल रही है, जिसमें दवाएं भी प्रमुख रूप से शामिल हैं। दवाईयों की कमी के कारण छोटी से लेकर गंभीर बीमारियों से पीड़ति रोगियों के जीवन को बचाने में बहुत परेशानी आड़े आ रही है। राष्ट्रीय अस्पताल हालांकि आम तौर पर पूरे द्बीप राष्ट्र में विशेष उपचार के लिए जाना जाता है। जो इस संकट के दौर में स्वास्थ्य कर्मियों की कमी से जूझ रहा है और इसके 3,4०० बिस्तरों में से कई अप्रयुक्त हैं। अस्पताल में सर्जिकल उपकरण और जीवन रक्षक दवाओं की आपूर्ति लगभग खत्म हो गई है, जबकि पेट्रोल की कमी ने रोगियों और डॉक्टरों दोनों को इलाज के लिए अन्यत्र जाने में सबसे बड़ी बाधा पैदा कर दी है।

श्रीलंका अपनी जरूरतों के शेष हिस्से के निर्माण के लिए कच्चे माल के साथ-साथ 85 प्रतिशत दवाओं और चिकित्सा उपकरणों का आयात करता है। देश अब हालांकि दिवालिया के कगार पर पहुंच गया है और विदेशी मुद्रा की कमी ने अर्थव्यवस्था को लगभग चौपट कर दिया है और इस संकट से उबरने के लिए पर्याप्त पेट्रोल और बीमारों के इलाज के लिए पर्याप्त फार्मास्यूटिकल्स के स्रोत आड़े आ रहे हैं। 



 

Copyright @ 2022 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.