Nobel Peace Prize 2021 : दो पत्रकारों ने सत्ता के दमन के खिलाफ उठाई आवाज़, इस वर्ष के शांति के नोबेले अवॉर्ड के लिए चुने गए, फिलीपींस और रूस के इन दो जर्नलिस्ट को मिलेगा नोबेल शांति पुरस्कार 2021 ?

Samachar Jagat | Friday, 08 Oct 2021 05:40:14 PM
 Nobel Peace Prize 2021  : Two journalists raised their voice against the suppression of power, selected for this year's Nobel Peace Prize, will these two journalists from the Philippines and Russia get the Nobel Peace Prize 2021?

इंटरनेशनल डेस्क। नोबेल शांति पुरस्कार 2021 की आज शुक्रवार को घोषणा कर दी गई है। वर्ष 2021 का शांति का नोबेल दो पत्रकारों को दिया जाने का फैसला किया गया है। फिलीपींस की मारिया रेस्‍सा और रूस के दिमित्री मुराटोव को अभिव्‍यक्ति की आजादी (Freedom of Expression) की सुरक्षा करने के लिए इस अवॉर्ड के लिए चुना गया है। दोनों ही पत्रकारों ने अपनी इन्वेस्टिगेटिव जर्नलिज्म के जरिये दोनों ही देशों में बदलाव लाने में सफल रहे हैं। 

 

Nobel Peace Prize 2021 awarded to Maria Ressa and Dmitry Muratov for their efforts 'to safeguard freedom of expression' pic.twitter.com/l0dLJgDu1S — ANI (@ANI) October 8, 2021

एएनआई न्यूज एजेंसी के अनुसार, फिलीपींस की मारिया रेस्सा ने अपने देश फिलीपींस में सत्‍ता के दुरुपयोग, हिंसा के प्रयोग और तानाशाही को सामने लाने के लिए अभिव्‍यक्ति की आजादी का प्रयोग करते हुए सत्ता के खिलाफ आवाज उठाई। वर्ष 2012 में मारिया ने रैप्‍लर नामक डिजिटल मीडिया प्लेटफॉर्म की स्थापना की। वो इसकी को-फाउंडर भी हैं। मीडिया कंपनी के जरिये वे इनवेस्टिगेटिव जर्नलिज्‍म को आगे बढ़ा रही हैं। 

वहीं दूसरी ओर रूस के दिमित्रि मुराटोव भी एक पत्रकार हैं। उन्‍होंने रूस में नोवाजा गाजेटा नामक अखबार के जरिये लोगों को जगाने का काम किया है। वे अपने इस अखबार के जरिये सत्ता के खिलाफ लगातार लिखते रहते हैं। उनके अखबार को रूस का सबसे स्वतंत्र अखबार माना जाता है। 



 
loading...



Copyright @ 2021 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.