Oscar Award : ट्रॉय कोत्सुर ऑस्कर पुरस्कार जीतने वाले दूसरे बधिर अभिनेता बने

Samachar Jagat | Monday, 28 Mar 2022 11:18:15 AM
Oscar Award : Troy Kotsur becomes second deaf actor to win an Oscar

लॉस एंजिलिस |  'कोडा’ के अभिनेता ट्रॉय कोत्सुर ने ऑस्कर में पुरस्कार जीतने वाले दूसरे बधिर व्यक्ति बनकर इतिहास रच दिया है। कोत्सुर को सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता का पुरस्कार मिला। उनकी सह-कलाकार रहीं मार्ली मैटलिन ने 35 साल से अधिक समय पहले 'चिल्ड्रन ऑफ ए लेसर गॉड’ (1986) के लिए मुख्य अभिनेत्री का ऑस्कर जीता था। वह ऑस्कर जीतने वाली पहली बधिर कलाकार हैं। कोत्सुर ने अपनी जीत को बधिर, दिव्यांग और 'कोडा’ समुदाय को समर्पित की।

भावुक कोत्सुर ने अमेरिकी सांकेतिक भाषा (एएसएल) के एक दुभाषिए के माध्यम से अपने संबोधन में कहा, ''यहां होना आश्चर्यजनक है। मुझे विश्वास नहीं हो रहा कि मैं यहां हूं। मेरे काम को मान्यता देने के लिए अकादमी को धन्यवाद।’’ अभिनेता ने कहा कि उन्हें बेहद खुशी है कि उनकी फिल्म 'कोडा’ दुनिया भर में देखी गई। उन्होंने कहा, ''यह व्हाइट हाउस तक भी पहुंच गई, जिसने 'कोडा’ के कलाकारों को व्हाइट हाउस आने और उसका दौरा करने के लिए आमंत्रित किया।’’

कोत्सुर ने कहा कि 'कोडा’ के निर्देशक सियान हेडर बधिरों की दुनिया और सुनने में सक्षम लोगों की दुनिया को एक साथ लेकर आए। अभिनेता ने उनका निरंतर समर्थन करने के लिए अपने परिवार को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा, ''मेरे गृहनगर मेसा, एरिजोना में मेरे सबसे बड़े प्रशंसकों मेरी पत्नी और मेरी बेटी कायरा को धन्यवाद। मार्क फिनले, मेरे प्रबंधक और हमारी टीम... मेरी मां, मेरे पिताजी और मेरे भाई मार्क, यह हम सबका क्षण है।

मैंने कर दिखाया। मैं आपसे प्यार करता हूं। धन्यवाद।’’ 'कोडा’ यानी 'चाइल्ड ऑफ डेफ अडल्ट्स’ (बधिर वयस्कों का बच्चा’) फिल्म एक बधिर परिवार की दिल को छू लेने वाली कहानी है। यह 2014 की फ्रांसीसी फीचर फिल्म 'ला फैमिले बेलियर’ की रीमेक है। यह फिल्म अन्य हॉलीवुड फिल्मों की तरह ही प्यार, नाटकीयता और हास्य को समेटे हुए है, लेकिन यह ज्यादातर एएसएल के माध्यम से दर्शकों तक अपनी बात पहुंचाती है। 



 

Copyright @ 2022 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.