लेबनान में घातक विस्फोट के बाद अमेरिकी सहायता पहुंचनी शुरू

Samachar Jagat | Friday, 07 Aug 2020 03:30:01 PM
US aid begins to arrive after a deadly explosion in Lebanon

वाशिगटन। अमेरिका ने लेबनान में बड़े पैमाने पर हुए घातक विस्फोट के बाद वहां सहायता पहुंचानी शुरू कर दी है और यह उन दीर्घकालिक चिताओं के बीच हो रहा है कि अधिकारी यह कैसे सुनिश्चित करेंगे कि सहायता सामग्रियां जरूरतमंदों तक पहुंचे न कि ईरान समर्थित हिज्बुल्ला तक।
अमेरिकी सैन्य मध्य कमान से 11 पैलेट भोजन, पानी और चिकित्सीय आपूर्ति लेकर पहला सी-17 परिवहन विमान बृहस्पतिवार को कतर में उतरा और दो अन्य के अगले 24 घंटों में वहां पहुंचने की उम्मीद है।
अमेरिकी अधिकारियों ने कहा कि प्रशासन ने आपदा सहायता के रूप में कम से कम 1.5 करोड़ डॉलर उपलब्ध कराने की योजना बनाई है। अधिकारियों को औपचारिक घोषणा से पहले मामले पर चर्चा करने की इजाजत नहीं थी इसलिए उन्होंने नाम उजागर न करने की शर्त पर यह जानकारी दी। लेकिन सहायता के प्रावधान को सबसे अधिक जटिल हिज्बुल्ला की भूमिका बनाती है जो वह लेबनानी सरकार और लेबनान समाज के ताने-बाने में निभाता है।
एमोनियम नाइट्रेट का 2,75० टन के भंडार में भयंकर विस्फोट से राजधानी शहर दहल गया था। यह रसायन 2०13 में मालवाहक जहाज से जब्त किए जाने के बाद से एक कारखाने में पड़ा हुआ था।
इस धमाके में 13० से अधिक लोगों की मौत हो गई, हजारों घायल हो गए और कई मील दूर तक इमारतें क्षतिग्रस्त हो गईं। अधिकारियों का अनुमान है कि दो दिन बाद तक करीब तीन लाख लोग अपने घरों को वापस नहीं लौट सके हैं। क्षतिग्रस्त हुए अस्पताल अब भी घायलों का इलाज करने में जूझ रहे हैं और अधिकारियों ने 1० अरब से 15 अरब डॉलर के बीच नुकसान होने का अनुमान जताया है। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.