चीनी हमले में अमेरिका ताइवान की रक्षा करेगा: Biden

Samachar Jagat | Monday, 19 Sep 2022 01:06:16 PM
US will defend Taiwan against Chinese attack: Biden

वाशिगटन  | अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने फिर कहा है कि चीन के हमले करने की स्थिति में अमेरिका ताइवान की रक्षा करेगा।
एक सीबीएस साक्षात्कार में जब श्री बाइडेन से पूछा गया कि क्या चीन के ताइवान पर हमला करने पर अमेरिकी सेना ताइवान की रक्षा करेगी। इसके जवाब में अमेरिकी राष्ट्रपति ने हामी भरते हुए 'हाँ’ में जवाब दिया। यह साक्षात्कार रविवार को प्रसारित हुआ जिसके बाद व्हाइट हाउस ने दोहराया कि अमेरिकी नीति में कोई बदलाव नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि अमेरिका की नीति हमेशा 'रणनीतिक अस्पष्टता’ में से एक रही है। अमेरिका ताइवान की रक्षा करने के लिए प्रतिबद्ध नहीं है, लेकिन विकल्प को भी खारिज नहीं करता है।
ताइवान पूर्वी चीन के तट पर एक स्व-शासित द्बीप है जिसे चीन अपने क्षेत्र के रूप में दावा करता है। अमेरिका लंबे समय से इस मुद्दे पर कूटनीतिक सख्ती बरते हुए है। एक ओर यह चीन नीति का पालन करता है, जो चीन के साथ उसके संबंधों का आधार भी है।
श्री बाइडेन ने रविवार को सीबीएस को दिए अपने एक घंटे के साक्षात्कार में इसे दोहराया। उन्होंने कहा कि एक चीन की नीति है और ताइवान अपनी स्वतंत्रता पर अपने निर्णय स्वयं लेता सकता है। हम आगे नहीं बढè रहे हैं, उन्हें चीन से आजादी पाने के लिए प्रोत्साहित नहीं कर रहे हैं - 'यह ताइवान का अपना निर्णय है।’

इस बार भी व्हाइट हाउस ने एक बयान जारी किया, ''राष्ट्रपति ने यह पहले भी कहा है, जिसमें इस साल की शुरुआत में टोक्यो भी शामिल है। उन्होंने तब भी स्पष्ट किया था कि हमारी ताइवान नीति नहीं बदली है। यह सच है। ’’ पर एक साल में यह तीसरी बार है कि जब राष्ट्रपति बाइडेन अक्टूबर 2०21 में और फिर इस साल मई में सैन्य कार्रवाई के वादे का संकेत देने में आधिकारिक रुख से कायम हैं। इस महीने की शुरुआत में अमेरिका ने ताइवान को रक्षा के लिए 1.1 अरब डालर के हथियार और मिसाइल बेचने पर सहमति दी थी, जिसके बाद से चीन का गुस्सा सातवें आसमान पर है।

गौरतलब है कि अमेरिकी संसद की अध्यक्ष नैन्सी पेलोसी के अगस्त में द्बीप का विवादास्पद दौरा करने के बाद अमेरिका और चीन के बीच तनाव बढè गया। इसके बाद श्री बाइडेन ने कहा था कि चीन की इस तरह की प्रक्रिया अच्छी नहीं है। श्री बाइडने ने कल के साक्षात्कार में कहा कि रूस को यूक्रेन में युद्ध में रासायनिक या सामरिक परमाणु हथियारों का उपयोग नहीं करने की चेतावनी भी दी गई है।



 

Copyright @ 2022 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.