तिरुपति बालाजी मंदिरों में अंकुरारोपण के साथ कल से शुरू होगा ब्रह्मोत्सव

Samachar Jagat | Tuesday, 14 May 2019 01:50:07 PM
Brahmotsav will start from Tirupati Balaji temples tomorrow

धर्म डेस्क। आंध्र प्रदेश के तिरुमला स्थित तिरुपति बालाजी मंदिर और दिल्ली तथा देश के अन्य शहरों में स्थित उसके केंद्रों में 11 दिन का ब्रह्मोत्सव बुधवार से शुरू होगा। दिल्ली में आंध्र प्रदेश के स्थानिक आयुक्त प्रवीण प्रकाश ने यहां उद्यान मार्ग स्थित तिरुपति बालाजी मंदिर में एक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि 15 मई की शाम छह बजे 'अंकुरारोपण’ के साथ ब्रह्मोत्सव की शुरुआत होगी और 25 मई की शाम छह बजे 'श्री पुष्पयागम’ के साथ उसका समापन होगा। 

इन वास्तुदोषों के कारण घर सदस्यों को करना पड़ता है अनेक प्रकार की परेशानियों का सामना

प्रकाश ने बताया कि मान्यताओं के अनुसार ब्रह्माजी के आग्रह पर भगवान वेंकटेश्वर 11 दिन के लिए परिवार सहित अपने मंदिर से बाहर आते हैं और मंदिर की परिक्रमा करते हैं। यह उत्सव ब्रह्माजी का है, इसलिए इसे ब्रह्मोत्सव के नाम से जाना जाता है। तिरुमाला स्थित तिरुपति बालाजी मंदिर में और उसकी देश भर में फैली 36 शाखाओं में इसे हर साल पूरे धूमधाम से मनाया जाता है। दिल्ली के आसपास कुरुक्षेत्र और ऋषिकेश स्थित तिरुपति बालाजी मंदिरों में भी 15 से 25 मई के बीच ब्रह्मोत्सव मनाया जाएगा।

इन वास्तुदोषों के कारण घर सदस्यों को करना पड़ता है अनेक प्रकार की परेशानियों का सामना

इन 11 दिनों के दौरान भगवान वेंकटेश्वर की 11 यात्राएं होंगी। हर बार वह अलग-अलग वाहनों पर परिक्रमा करेंगे। हर दिन कुछ विशेष पूजा तथा कार्यक्रमों का आयोजन होने के साथ ही होम, अभिषेक और कल्याण पूजा का दैनिक आयोजन किया जाएगा। यहां आने वाले श्रद्धालु रोजाना सांस्कृतिक कार्यक्रमों का भी लुत्फ उठा सकते हैं। ब्रह्मोत्सव के दौरान सभी दिन तिरुमाला से लाए गए विशेष लड्डू भी उपलब्ध होंगे। लोग मंदिर प्रांगण में बने स्टॉलों से ये लड्डू खरीद सकते हैं। -एजेंसी

जिस घर में होती है भगवान श्री कृष्ण की प्रिय ये वस्तु, उस घर में कभी नहीं होती धन की कमी



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
रिलेटेड न्यूज़
ताज़ा खबर

Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.