Chaitra Purnima : 27 अप्रैल को हिंदू नववर्ष की प्रथम पूर्णिमा, जानें चैत्र पूर्णिमा का शुभ मुहूर्त, पूजा विधि और महत्व के बारे में?

Samachar Jagat | Saturday, 24 Apr 2021 03:29:42 PM
Chaitra Purnima: On April 27, the first full moon of the Hindu New Year, know about the auspicious time of Chaitra Purnima, worship method and importance?

लाइफस्टाइल डेस्क। हिंदू धार्मिक मान्यताओं में पूर्णिमा तिथि का विशेष महत्तम है। चैत्र पूर्णिमा हिंदू नववर्ष की प्रथम पूर्णिमा मानी जाती है। इसी पावन दिन हनुमान जी का जन्मोत्सव भी मनाया जाता है। हनुमान जी का जन्मोत्सव होने से इस दिन का महत्व कई अधिक हो जाता है।

तो आइए जानते हैं चैत्र पूर्णिमा की तिथि, शुभ मुहूर्त, पूजा विधि और महत्व के बारे में...

तिथि - 27 अप्रैल, 2021, दिन मंगलवार

पूर्णिमा तिथि प्रारम्भ- 26 अप्रैल 2021, सोमवार, दोपहर 12 बजकर 44 मिनट से
पूर्णिमा तिथि समाप्त- 27 अप्रैल, 2021, मंगलवार, सुबह 09 बजकर 01 मिनट पर

इस दिन ऐसे करें पूजा अर्चना

सुबह स्नान आदि से निवृत होकर व्रत का संकल्प लें। पूर्णिमा के दिन किसी पवित्र नदी में स्नान करने का बहुत अधिक महत्व होता है। कोरोना के कारण आप घर में ही रहकर इसे करें। आप नहाने के जल में गंगा जल मिलाकर स्नान करें। इस दिन भगवान विष्णु की पूजा का भी विशेष महत्व होता है। वहीं हनुमान चालीसा का भी पाठ करना चाहिये।

महत्व

1. चैत्र पूर्णिमा के दिन व्रत करने से कई गुना फल की प्राप्ति होती है।

2. इस दिन हनुमान जन्मोत्सव भी मनाया जाता है।

3. इस पावन दिन हनुमान जी की पूजा करने से संकटों से मुक्ति मिलती है और सभी मनोकामनाएं पूरी हो जाती हैं।

4. इस दिन भगवान विष्णु की पूजा करने से सुख, धन और वैभव की प्राप्ति होती है।

 



 
loading...




Copyright @ 2021 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.