Chaitra Navratri 2022: कम समय में भी ऐसे करें दुर्गा सप्तशती का पाठ, होगा संपूर्ण पाठ जितना फायदा

Samachar Jagat | Thursday, 31 Mar 2022 05:16:01 PM
Do Upasana / Chaitri Navratri 2022: Saptashati lessons can be done in such a short time, it will be as beneficial as a complete lesson.

इस बार चैत्र नवरात्रि 2 अप्रैल से शुरू हो रहे हैं। मां दुर्गा की पूजा का यह पर्व 11 अप्रैल तक चलेगा। पूरे नवरात्रि में मां दुर्गा की पूजा की जाती है।

  • 2 अप्रैल से चैत्री नवरात्रि का शुभारंभ
  • देवी दुर्गा की पूजा की जाती है
  • नवरात्रि के दौरान, मेरे भक्त दुर्गा सप्तशती का पाठ करते हैं
  • दुर्गा सप्तशती में अध्याय 13

कई भक्त नवरात्रि के दौरान दुर्गा सप्तशती का पाठ करते हैं। दरअसल, नवरात्रि में इसका पाठ करना विशेष फलदायी माना जाता है। दुर्गा सप्तशती में 13 अध्याय हैं। जो तीन वर्णों में विभाजित है। लगभग हर अध्याय में मां दुर्गा की स्तुति की गई है। दुर्गा सप्तशती के पहले चरित्र में मधु-कैतभ वधानु का वर्णन है। उदार चरित्र महिषासुर के संहार का वर्णन करता है। तो उत्तरी वर्ण में शुंभ-निशुंभ वध और देवी के आशीर्वाद का वर्णन है।

आप दुर्गा सप्तशती का पाठ कैसे करते हैं?

कम समय में दुर्गा सप्तशती के पूर्ण पाठ का लाभ पाने के लिए सबसे पहले कवच, किलक और अर्गला स्तोत्र का पाठ करना चाहिए। फिर मुख्य मंत्र का पाठ करना चाहिए। ऐसा माना जाता है कि इस तरह से पाठ करने से दुर्गा सप्तशती का पूरा पाठ प्राप्त होता है।



 

Copyright @ 2023 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.