Travel Tips: 6 मई को खुलेंगे केदारनाथ के कपाट, यहां जानिए ठहरने से लेकर किराए तक की पूरी जानकारी

Samachar Jagat | Wednesday, 06 Apr 2022 01:12:02 PM
Doors of Kedarnath to open on May 6, know here complete information from stay to rent

केदारनाथ यात्रा के लिए हेली सेवा की बुकिंग आज से होगी। आपको बता दें कि इसके लिए उत्तराखंड सिविल एसोसिएशन डेवलपमेंट ने पूरी तैयारी कर ली है। और UCADA ने टिकटों की कालाबाजारी रोकने के लिए एक हेल्पलाइन नंबर (0135-2746817 और 2431793) भी जारी किया है। दरअसल, ऑनलाइन टिकट बुकिंग की जिम्मेदारी गढ़वाल मंडल विकास निगम (GMVN) को दी गई है.

केदारनाथ धाम के कपाट 6 मई को खुलने जा रहे हैं. हालांकि, चारधाम यात्रा 3 मई को अक्षय तृतीया के दिन गंगोत्री और यमुनोत्री धाम के कपाट खुलने के साथ शुरू होगी. एक रिपोर्ट के मुताबिक ऑनलाइन टिकट गुप्तकाशी, सिरसी और फाटा से संचालित हेली सेवा के लिए आज से केदारनाथ धाम के लिए बुकिंग शुरू हो जाएगी। उत्तराखंड पर्यटन विकास बोर्ड के सचिव दिलीप जावलकर ने कहा कि देश-दुनिया से आने वाले तीर्थयात्रियों की सुविधा के लिए हेली सेवा के टिकट जीएमवीएन की वेबसाइट https://heliservices.uk.gov.in/ पर उपलब्ध होंगे। और उन्होंने केदारनाथ आने वाले तीर्थयात्रियों से जीएमवीएन की आधिकारिक वेबसाइट से हेली सेवा के लिए टिकट बुक करने का आग्रह किया है। दरअसल टू वे हेली सर्विस का किराया करीब 5000 रुपये होगा।


 

ध्यान रहे कि केदारनाथ यात्रा पर जाने वाले तीर्थयात्रियों को सब कुछ पहले से ही व्यवस्थित करना होगा। अब से आपको ठहरने के लिए होटल और खानपान की व्यवस्था करनी होगी। GMVN की वेबसाइट पर, आप किफायती मूल्य पर होटल, भोजन और गतिविधियाँ बुक कर सकते हैं। वहीं, केदारनाथ धाम के अलावा गढ़वाल हिमालय के चारधाम के नाम से मशहूर चमोली जिले में स्थित बद्रीनाथ धाम के पट भी 8 मई से खुलने जा रहे हैं. अधिकारियों के मुताबिक 7 मई से बुकिंग मिल चुकी है. 31 तक, जबकि अधिकांश ऑनलाइन बुकिंग जून के लिए प्राप्त हुई है। जी हां और इस बार ध्यान गुफा में खेती के लिए साधकों को जीएसटी समेत तीन हजार रुपए खर्च करने होंगे।


इतना होगा केदारनाथ आने-जाने का किराया- गुप्तकाशी से केदारनाथ तक हेली सेवा का किराया 7750 रुपए होगा। वहीं फाटा से केदारनाथ तक 4720 रुपये, सिरसी से केदारनाथ तक 4680 रुपये देने होंगे.



 

Copyright @ 2022 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.