बार-बार असफल होने के बाद भी गुरु रंधावा ने नहीं मानी हार, एक गाने से हुए सुपरहिट

Samachar Jagat | Monday, 30 Aug 2021 08:25:21 AM
Guru Randhawa denied giving up even after repeated failures, superhits with this song

पंजाबी सिंगर गुरु रंधावा का आज जन्मदिन है। गुरु रंधावा आज अपना 30वां जन्मदिन मना रहे हैं। गुरु रंधावा का जन्म 30 अगस्त 1991 को पंजाब के गुरदासपुर जिले में हुआ था। उन्होंने अपने करियर की शुरुआत छोटे स्टेज शो और पार्टियों से की थी। ऐसा करते हुए गुरु रंधावा कुछ समय बाद दिल्ली आ गए और यहीं से उन्होंने एमबीए की पढ़ाई पूरी की। गुरु रंधावा ने अपने करियर की शुरुआत साल 2012 में बतौर सिंगर की थी। इसके बाद उन्होंने अपना पहला गाना 'सेम गर्ल' बनाया लेकिन उनका पहला गाना हिट नहीं हुआ। अपनी पहली असफलता के बावजूद, गुरु रंधावा पीछे नहीं हटे।

 

 

असफल होने के बाद भी उन्होंने अपना दूसरा गाना बनाया। गाने का नाम 'चाड गई' था। गीत के बाद गुरु रंधावा ने 2013 में अपना एल्बम लॉन्च करने का निर्णय लिया। गुरु रंधावा के पहले एल्बम को 'पेग वन' कहा गया और गुरु रंधावा के भाई ने एल्बम को लॉन्च करने में उनकी आर्थिक मदद की। कहा जाता है कि इसके बाद उन्होंने अपने कई गाने रिलीज किए लेकिन गुरु रंधावा के वो गाने हिट नहीं हो सके। करीब दो साल तक गुरु ने संघर्ष किया और फिर मशहूर रैपर बोहेमिया उनके लिए क्वासर बन गए। गुरु रंधावा और बोहेमिया ने फिर एक प्रसिद्ध बॉलीवुड संगीत कंपनी के साथ मिलकर 'पटोला' गाया और इस गाने ने गुरु रंधावा को रातोंरात सुपरस्टार बना दिया।


 
2015 में आया गाना 'पटोला' आज भी लाखों लोग पसंद करते हैं। इस गाने के बाद गुरु ने कई सुपरहिट गाने दिए जो आज भी काफी लोकप्रिय हैं। गुरु ने कई पंजाबी गाने गाए हैं और यही वजह है कि उनके लाखों प्रशंसक हैं। गुरु के गीतों की सूची में लाहौर, पटोला, हाई रेटेड गबरू, दारू वर्गी, रात कमाल है और बन जा रानी शामिल हैं। फिलहाल हमारी ओर से गुरु को जन्मदिन की बधाई।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2021 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.