कम समय में ज्यादा पौधे रोपेगी आईआईटी की सीड बॉल

Samachar Jagat | Wednesday, 29 Jul 2020 08:00:02 PM
IIT seed balls will plant more plants in a short time

कानपुर। उत्तर प्रदेश के कानपुर में भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) के वैज्ञानिकों ने अनूठी सीड बाल विकसित की है जो कम समय में ज्यादा पौधारोपण करने में मदद करेगी।
संस्थान के प्रवक्ता ने बुधवार को बताया कि इमेजिनरी लैब आईआईटी कानपुर ने एग्निस वेस्ट मैनेजमेंट प्राइवेट लिमिटेड (आईआईटी कानपुर में स्टार्ट-अप) के सहयोग से बीईईजी (बायोकोम्पोस्ट समृद्ध इकोफ्रेंडली ग्लोबुले) नाम से स्वदेशी सीड बॉल विकसित की है।

प्रो जे रामकुमार और उनकी टीम द्बारा विकसित बीज की गेंदों में देशी किस्म के बीज, खाद और मिSी शामिल हैं। वैज्ञानिक प्रयोगों ने रचना को मानकीकृत करने और बीजों को पानी के संपर्क में आने पर अंकुरित होने के लिए उपयुक्त वातावरण प्रदान करने में मदद की है। यह मानकीकरण एक गड्ढा खोदने और फिर एक पौधा लगाने की परेशानी को काट देगा, और इन गतिविधियों के समय और तैयारी को बचाएगा जिससे बहुत कम समय में बड़ी संख्या में पेड़ लगाया जाना संभव होगा।
उन्होने बताया कि बस इन सीड बॉल को बाहर फेंकने की जरूरत है और प्रकृति बाकी चीजों का ध्यान रखेगी, बारिश का मौसम सही विकल्प है। इस पहल में उन बेरोजगार श्रमिकों और बागवानों को शामिल किया गया है जो कोविड-19 लॉकडाउन के कारण बेरोजगार थे। बीईजी को जल्दी अंकुरित करने के लिए सही सामग्री और बीजों से समृद्ध किया जाता है, और इस मानसून का उपयोग करने का सबसे अच्छा तरीका है और सामाजिक रूप से जीवन को खतरे में डाले बिना कई पेड़ लगा सकते हैं। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2021 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.