Ramadan 2022: डायबिटीज में रखने वाले हैं रोजा, इन बातों को रखिए ध्यान

Samachar Jagat | Saturday, 02 Apr 2022 12:34:04 PM
In the month of Ramadan, diabetes patients are keeping fast, so keep these things in mind

रमजान का महीना मुस्लिम समुदाय के बीच बेहद पवित्र महीना माना जाता है। आप सभी को बता दें कि इस्लामिक कैलेंडर का यह नौवां महीना है और इस महीने में मुस्लिम समुदाय के लोग करीब एक महीने तक रोजा रखते हैं. ऐसे में अगर शनिवार 2 अप्रैल को चंद्रमा दिखाई दे तो 3 अप्रैल को पहला रोजा रखा जाएगा. आप सभी को बता दें कि व्रत के दौरान सूर्योदय से सूर्यास्त तक कुछ भी खाना-पीना मना है. जी हां इतना ही नहीं इस दौरान आपका थूक भी नहीं निगलता है। इस दौरान ज्यादातर वयस्क उपवास रखते हैं। लेकिन क्या मधुमेह रोगियों के लिए उपवास करना सुरक्षित है? ऐसा इसलिए कहा जा रहा है क्योंकि डायबिटीज के मरीजों को ज्यादा देर तक भूखे नहीं रहना चाहिए। हालांकि 14 से 15 घंटे तक कुछ न खाने से उनकी हालत और खराब हो सकती है, लेकिन अब हम आपको इसके बारे में बताते हैं।

मधुमेह रोगियों को उपवास करते समय ये सावधानियां बरतनी चाहिए-
 
बीमार लोगों को उपवास नहीं करने की अनुमति है। जी हां और ऐसे में अगर आप व्रत नहीं रखते हैं तो आपके लिए बेहतर है क्योंकि लंबे समय तक भूखे रहने से मधुमेह के मरीजों में ग्लूकोज का स्तर अचानक गिर सकता है, जिससे हाइपोग्लाइसीमिया हो सकता है। हां, और चक्कर और बेहोशी भी हो सकती है। इसके अलावा अगर शुगर बढ़ जाए तो आंखों के सामने धुंधलापन, बेहोशी, कमजोरी और थकान जैसी समस्याएं हो सकती हैं।

- व्रत के दौरान कई घंटों तक कुछ न खाने से आपका ब्लड प्रेशर भी प्रभावित हो सकता है. दरअसल, सभी को ब्लड प्रेशर को लेकर सतर्क रहना चाहिए और समय-समय पर टेस्टिंग किट के जरिए इसकी जांच कराते रहना चाहिए। उपवास में तनाव से बचें क्योंकि तनाव भी बीपी को प्रभावित कर सकता है।

- उपवास के दौरान ग्लूकोज को नियंत्रित रखें और किसी विशेषज्ञ से इसके बारे में पूछें। सेहरी के दौरान जब भी कुछ खाएं तो सबसे पहले अपना ब्लड शुगर चेक करें और उसी के अनुसार चीजों को डाइट में शामिल करें।

- कई बार उपवास के दौरान सेहरी के समय लोग बहुत ज्यादा खा लेते हैं, इससे ग्लूकोज का स्तर बढ़ने का खतरा भी हो जाता है। इस बात का ध्यान रखें कि एक साथ ज्यादा न खाएं। आहार में फल, सब्जियां, दालें, दही आदि शामिल करें। कार्बोहाइड्रेट कम खाएं।

शरीर में पानी की कमी न होने दें। उपवास के दौरान घर से बाहर न निकलें क्योंकि अभी गर्मी का प्रकोप है, जिससे शरीर में पानी की कमी हो सकती है।



 

Copyright @ 2022 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.