No worries about treatment cost in case of corona: केंद्र सरकार ने लोगों को दी बड़ी राहत, पॉलिसी की समय सीमा बढ़ाई

Samachar Jagat | Thursday, 31 Mar 2022 06:26:02 PM
No worries about treatment cost in case of corona: Central govt gives big relief to people, extends policy deadline

इस पॉलिसी को खरीदने के लिए आपकी आयु 18 से 65 वर्ष के बीच होनी चाहिए। वहीं अगर कोई पॉलिसी खरीदने के 15 दिन के अंदर कोरोना वायरस हो जाता है तो उसे उस समय इस पॉलिसी का लाभ नहीं मिलेगा.

  • सरकार ने लोगों को दी बड़ी राहत
  • कोरोना शील्ड योजना 6 महीने के लिए बढ़ाई गई
  • जानिए आपको क्या मिलेगा लाभ

कोरोना के समय में सरकार ने लोगों को बड़ी राहत दी है. अब 'कोरोना शील्ड' योजना को अगले 6 महीने के लिए बढ़ा दिया गया है। यह योजना अब सितंबर 2022 तक वैध है। यह फैसला बीमा नियामक IRDAI ने लिया है। पॉलिसी पहले 31 मार्च, 2022 को समाप्त होने वाली थी। कोरोना महामारी को देखते हुए IRDAI ने पॉलिसी की वैधता 31 मार्च 2021 से बढ़ाकर 31 मार्च 2022 कर दी है। अब इसे फिर से 30 सितंबर 2022 तक बढ़ा दिया गया है।

IRDAI ने जारी किया बयान
इस बात की जानकारी देते हुए IRDAI ने एक बयान में कहा कि इस नीति को कोरोना काल में जबरदस्त प्रतिक्रिया मिली है. अब कोरोना के विशेष उत्पाद को 31 मार्च 2022 से बढ़ाकर 30 सितंबर 2022 कर दिया गया है। इसमें पॉलिसी के नवीनीकरण और खरीद की अवधि को बढ़ाकर 6 महीने कर दिया गया है।

जानिए कोरोना शील्ड पॉलिसी के बारे में
कोरोना काल में लोगों के अस्पताल में भर्ती होने के बढ़ते खर्च को देखते हुए कोरोना शील्ड पॉलिसी नाम से एक विशेष कोरोना पॉलिसी पेश की गई थी। इस पॉलिसी के द्वारा कोरोना शील्ड पॉलिसी कोरोना से संबंधित सभी खर्चों को कवर करती है जैसे कोरोना के इलाज के दौरान अस्पताल में भर्ती होने का खर्च, दवाओं का खर्च आदि।

यह भारतीय बीमा नियामक और विकास प्राधिकरण (IRDAI) द्वारा विनियमित है। इस पॉलिसी में पॉलिसीधारक को रु. 50,000 से रु. 5 लाख रुपये तक की बीमा पॉलिसी उपलब्ध है। वहां इस पॉलिसी की समय सीमा 3 महीने, 6 महीने और 9 महीने है। इस पॉलिसी में आपको प्रीमियम के लिए 500 रुपये से 6000 रुपये का भुगतान करना होगा।

ये लोग ले सकते हैं पॉलिसी का फायदा
IRDAI द्वारा निर्धारित नियमों के अनुसार इस पॉलिसी को खरीदने के लिए आपकी आयु 18 से 65 वर्ष के बीच होनी चाहिए। वहीं अगर पॉलिसी खरीदने के 15 दिनों के भीतर कोरोना हो जाता है तो उस समय पॉलिसी का लाभ प्रभावी नहीं होगा.

  • इन वस्तुओं को मिलेगा बीमा कवर
  • आईसीयू की लागत और डॉक्टर की परामर्श फीस।
  • अस्पताल के बिस्तर का प्रभार।
  • ब्लड टेस्ट, पीपीई किट का खर्चा।
  • अस्पताल से छुट्टी के बाद 30 दिनों तक की लागत।



 

Copyright @ 2022 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.