झांसी की रानी लक्ष्मी बाई की मौत के बाद उनके बेट के साथ हुआ था ऐसा, जानकर चौंक जाएंगे आप

Samachar Jagat | Wednesday, 10 Jun 2020 11:41:44 AM
Thus was the life of the son of Rani Lakshmi Bai of Jhansi

इंटरनेट डेस्क। देश की पहली महिला स्वतंत्रता सैनानी झांसी की रानी लक्ष्मी बाई ने  अंग्रेजों के खिलाफ बगावत की थी। आज हम उनसे जुड़ी एक ऐसी बात बताने जा रहे हैं जिसके बारे में शायद ही आपको पता हो।

इन जानवर के बारे में जानकर चौंक जाएंगे आप, पूरी जिंदगी ही रहता है प्रेग्नेंट

ये तो सभी को पता है कि झांसी की रानी लक्ष्मी बाई अंग्रेजों के खिलाफ युद्ध में लड़ते-लड़ते वीरगति को प्राप्त हो गई थी,लेकिन आपको ये पता नहीं होगा कि जिस बच्चे को साथ लेकर उन्होंने युद्ध लड़ा था, उसके साथ आगे जाकर क्या हुआ था।

भारत के इन दिग्गज क्रिकेटरों ने शादीशुदा महिलाओं को बनाया अपना जीवनसाथी

रानी लक्ष्मीबाई ने अपनी पीठ के पीछे अपने बेटे को बांधकर युद्ध किया था। अंग्रेजों ने लक्ष्मीबाई के खिलाफ युद्ध जीतकर झांसी पर कब्जा कर लिया था। इसके बाद लक्ष्मीबाई के बेटे दामोदर राव को आवारा छोड़ दिया था। बताया जाता है कि दामोदर राव झांसी की गलियों में भीख मांगकर अपना गुजारा करता था।

इसी दौरान दामोदर राव नन्हें खान से संपर्क में आए। इसके बाद नन्हें खान ने दामोदर को एक अंग्रेज अधिकारी फ्लिंक से मिलवाकर उनकी दो सौ रुपए प्रति माह की पेंशन बंधवा दी थी। बड़ा होने पर उन्हें झांसी का जागीरदार बना दिया गया था। 



 
loading...
loading...


Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.