जनता कर्फ्यू के दौरान जुलूस निकाला डीएम व एसपी ने

Samachar Jagat | Tuesday, 24 Mar 2020 06:47:44 AM
3191542041726740

देश कोरोना वायरस से ग्रसित है. लोग परेशान हैं. शहरों में लॉकडाउन है. सड़कों पर सन्नाटा पसरा है. सरकारें लोगों से घरों में रहने की अपील कर रही हैं लेकिन प्रशासनिक अमला ही इन पर अमल नहीं कर रहा है. पीलीभीत के डीएम और एसपी ने तो बाकायदा जुलूस निकाल कर कोरोना वायरस को भगाने के लिए घंटी भी बजाई, ताली भी और थाली भी. लेकिन उनके इस आचरण पर सवाल उठ रहे हैं. रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से बुलाए गए 'जनता कर्फ्यू' के दिन शाम पांच बजे पूरे देश में लोगों ने ताली और थाली बजाकर उन लोगों को धन्यवाद दिया जो कोरोना वायरस से अग्रिम मोर्चे पर जूझ रहे हैं.



loading...

दरअसल मोदी ने लोगों से डॉक्टर, नर्स, नगर निगम के कर्मचारी, पुलिस को धन्यवाद देने के लिए ऐसा आयोजन किया था. लेकिन इंदौर इसी बात को लेकर चर्चा में है. दरअसल वहां कुछ लोगों ने इस आयोजन को जुलूस का शक्ल दे दिया. जबकि इस बीमारी को रोकने के लिए बार-बार कहा जा रहा है कि भीड़ इकट्ठा न होने पाए. पूरा देश जनता कर्फ्यू के दौरान रविवार को घरों में रहा और शाम पांच बजे अपनी बालकनी या अहाते में आकर कोरोना के खिलाफ लड़ रहे आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों के सम्मान में शंख, ताली और घंटे बजा रहे थे तो दूसरी तरफ पीलीभीत से एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसे लेकर जिले के डीएम और एसपी पर सवाल उठ रहे हैं. इसमें डीएम वैभव श्रीवास्त और एसपी अभिषेक दीक्षित खुद भीड़ की अगुवाई कर शंख और घंटे बजा रहे हैं.

जिला प्रशासन ने इस पर सफाई देते हुए कहा है कि भीड़ सड़क पर निकल आई थी तो डीएम और एसएसपी ने भावनात्मक तीरके से उनसे जु़ड़कर उनको समझाया.सवाल इस बात का है जब भीड़ इकट्ठा हुई तो अधिकारियों को लोगों समझाने की बजाए उस भीड़ की अगुआई करने की क्या जरूरत थी. जब इस बीमारी के फैलने का सबसे बड़ा खतरा सामुदायिक संक्रमण है तो भीड़ कहीं भी न इकट्ठा होने पाए इस पर सबसे पहले ध्यान देना है. हालांकि पीलीभीत पुलिस ने इस बात का खंडन किया है कि डीएम और एसपी ने जुलूस नहीं निकाला. कुछ जनता चूंकि बाहर आ गई थी इसले भावनात्मक जुड़ाव के जरिए वहां से हटाया गया, क्योंकि बल प्रयोग व्यावहारिक नहीं था. लेकिन पुलिस के इस बयान से कोई भी सहमत नहीं है. (राजनीतिक-सामाजिक मुद्दों पर सटीक विश्लेशण के लिए पढ़ें और फॉलो करें).


loading...


 
loading...

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!




Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.