कोरोना वायरस की वजह से दिल्ली में लॉकडाउन

Samachar Jagat | Monday, 23 Mar 2020 08:13:50 AM
3556668677489902

कोरोना वायरस का दायरा लगातार बढ़ता जा रहा है. सरकार ने पंद्रह दिन पहले सतर्कता बरतती तो शायद यह वायरस इतना पांव नहीं पसारता लेकिन सरकार सियासी खेल में उलझी रही और जब आंख खुली तो कोरोना का प्रकोर बढ़ गया है. जाहिर है कि कोरोना के लिए सतर्कता जरूरी था. सरकार ने जो कदम अब उठाए हैं उसे पहले लिया जाना था. इन सबके बीच ही अब दिल्ली को भी पूरी तरह से लॉकडाउन किया गया. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपराज्यपाल अनिल बैजल ने साझा प्रेस कांफ्रेंस कर इसका एलान किया. उन्होंने कहा कि हम सब बहुत भाग्यशाली हैं कि हमारे देश में कोरोना वायरस काफी देरी से आया. इस वायरस के बारे में ज्यादा जानकारी दुनिया के पास अभी नहीं है, लेकिन यह मालूम है कि दूसरे देशों को इस वायरस ने किस तरह से प्रभावित किया. उन्होंने कहा कि अगर हम दूसरे देशों से सीख नहीं लेते हैं तो इसका कोई फायदा नहीं है. 



loading...

दिल्ली के लॉकडाउन होने के साथ ही राजधानी के सभी सीमा को सील कर दिया गया है. ,कोई भी सामान जो दिल्ली में दाखिल नहीं हुआ है, वह बॉर्डर पर ही रहेगा. हालांकि इस दौरान जरूरी सामानों को राजधानी में दाखिल होने दिया जाएगा. लॉकडाउन के दौरान दिल्ली से न कोई उड़ान भरी जा सकेगी और न ही यहां कोई फ्लाइट लैंड हो सकेगी. रेलवे, मेट्रो की सेवाएं भी उपलब्ध नहीं होगी. इसके अलावा दिल्ली में जितनी जगह भी निर्माण का काम चल रहा है उस पर रोक लगा दी गई है. इस अवधि में वह काम भी नहीं होगा. 

लॉकडाउन के दौरान दिल्ली सोमवार सुबह छह बजे से सभी घरेलू उड़ानों पर प्रतिबंध का भी एलान केजरीवाल ने किया था. लेकिन, घरेलू उड़ानों पर रोक के मुख्यमंत्री केजरीवाल के एलान के बाद नागरिक उड्डयन के महानिदेशक (डीजीसीए) ने साफ किया है कि इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट से घरेलू उड़ानें जारी रहेंगी और एयरपोर्ट पहले की तरह काम करता रहेगा.

लॉकडाउन की अवधि में दिल्ली के सभी मंदिर और मस्जिद भी बंद रहेंगे. प्राइवेट कंपनियों के दफ्तर भी बंद रहेंगे लेकिन उनके कर्मचारियों को ऑन ड्यूटी माना जाएगा इसलिए उनकी तनख्वाह नहीं काटी जाएगी. जो व्यक्ति इन आदेशों का पालन नहीं करेगा उसके खिलाफ कानून के तहत सख्त कार्रवाई की जाएगी. दिल्ली के अलावा कई और शहरों को लॉकडाउन कर दिया गया है. (राजनीतिक-सामाजिक मुद्दों पर सटीक विश्लेशण के लिए पढ़ें और फॉलो करें).


loading...


 
loading...

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!




Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.