मंदिर की भूमि पूजा के बाद अब सूर्यवंशी पहनेंगे पगड़ी और चमड़े का जूता

Samachar Jagat | Thursday, 06 Aug 2020 05:00:02 PM
After worshiping the land of the temple, Suryavanshi will now wear a turban and leather shoe

बस्ती। उत्तर प्रदेश के बस्ती जिले में अयोध्या से सटी सीमा के विक्रमजोत क्षेत्र के 3० गांव में सूर्यवंश परिवार के लोग रहते हैं जिन्होंने करीब पांच सौ साल पहले जब अयोध्या में श्री राम मंदिर को तोड़ा गया था उसी समय सूर्यवंशी ठाकुरों ने प्रतिज्ञा की थी कि पुन: राम मंदिर बनने पर ही इस वंश के लोग पगड़ी बांध देंगे और चमड़े का जूता पहनेंगे।
सूर्यवंश परिवार के क्षत्रिय टिकरिया ग्राम निवासी विजयपाल सिह ने आज यहां कहा कि अयोध्या स्थित श्री राम मंदिर को लगभग 5०० वर्ष पूर्व जब तोड़ा गया था। उस समय सूर्यवंशियों ने प्रतिज्ञा की थी कि जब पुन: श्री राम मंदिर का निर्माण होगा तभी वह सिर पर पगड़ी बांध आएंगे और पैर में चमड़े का जूता पहनेंगे।
उन्होंने कहा कि तब से सूर्यवंशी क्षत्रिय इस प्रतिज्ञा का पालन करते चले आ रहे हैं। अब अयोध्या में पांच अगस्त को श्री राम मंदिर भूमि पूजन शिलान्यास हो जाने के बाद सूर्यवंश परिवार के हजारों छत्रीय फिर सिर पर पगड़ी बांध आएंगे और चमड़े का जूता पैर में पहनेंगे।
श्री विजय पाल सिह ने कहा है कि अयोध्या में श्री राम मंदिर के भूमि पूजन और शिलान्यास से देश का गौरव पूरे विश्व में बड़ा है इसके साथ ही सूर्यवंशी परिवार की गौरव गरिमा वापस लौट आई है। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.