देशभर में कोयले की कमी के कारण बिजली आपूर्ति में हो रही परेशानी पर केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला किया... केंद्र सरकार अगले 5 दिनों में प्रतिदिन कोयला उत्पादन 1.94 मिलियन टन से बढ़ाकर 2 मिलियन टन करेगी 

Samachar Jagat | Tuesday, 12 Oct 2021 10:30:44 PM
Central government to increase coal production per day from 1.94 million tonnes to 2 million tonnes in next 5 days

इंटरनेट डेस्क। देशभर में कोयले की कमी के बीच बिजली व्यवस्था को लगातार झटका लगा है। कई राज्यों में बिजली आपूर्ति चरमरा गई है। दिल्ली, राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, यूपी, गुजरात सहित कई राज्यों में कोयले की कमी के कारण पावरकट किया जा रहा है। पावरकट के चलते लोगों को अंधेरे में जीवन यापन करना पड़ा रहा है। आम लोगों के दर्द को समझते हुए आज केंद्र सरकार ने कोयले की कमी पर एक बड़ा फैसला लिया है। केंद्र सरकार के कोयला मंत्रालय ने कहा कि सरकार अगले 5 दिनों में प्रतिदिन कोयला उत्पादन 1.94 मिलियन टन से बढ़ाकर 2 मिलियन टन करेगी। 

 

Government to ramp up per day coal production from 1.94 million tonnes to 2 million tonnes per day in next 5 days: Govt sources — ANI (@ANI) October 12, 2021

एएनआई न्यूज एजेंसी के अऩुसार, कोयले की कमी के कारण देश के कई थर्मल प्लांटों में कोयला की आपूर्ति नहीं हो रही जिसके कारण बिजली कटौती लगातार जारी है। राजस्थान में भी लगातार हो रही कटौती के बीच सीएम अशोक गहलोत ने भी केंद्र सरकार को इस समस्या को जल्द से जल्द खत्म करने के लिए कहा है। सीएम गहलोत ने कहा कि आने वाले दिनों में देश में दशहर, दिवाली जैसे बड़े पर्व आ रहे हैं। दिवाली के दिन रोशनी की जगह अंधेरे में लोगों को दिवाली नहीं मनानी पड़े इसलिये केंद्र को इस समस्या का हल तुरंत खोजना चाहिये। 

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार,  देश में 70 फीसदी बिजली का उत्पादन कोयला से होता है। रिपोर्ट के मुताबिक कहा जा रहा है कि देश के थर्मल प्लाट्ंस में चार से पांच दिन का स्टॉक ही शेष बचा है। कोयले की ये देश में तब है जब भारत कोयले का दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा आयातक देश हैं। लेकिन इसके बावजूद देश में कोयले की कमी प्रश्नचिन्ह खड़े कर रही है। माना ये भी जा रहा है कि यदि कोयले की कमी ऐसे ही बनी रही तो देश में संभावित ब्लैकआउट हो सकता है। मतलब आने वाले दिनों में पूरा देश अंधेरे में डूब सकता है।



 
loading...



Copyright @ 2021 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.